Home Annex सच्चे मित्र वही होते हैं जो…

सच्चे मित्र वही होते हैं जो…

26
0

समाज में रहने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए रिश्ता (Friendship Day) शब्द का काफी महत्व होता है. सबसे पहले तो पारिवारिक रिश्ता और उसके बाद दोस्ती का रिश्ता. दोस्ती का रिश्ता हर किसी की जिंदगी के लिए महत्व रखता है. दोस्ती का यह रिश्ता महज सहयोग व विश्वास पर ही आधारित होता है.

सच्चे मित्र (Friendship Day) वही होते हैं जो सुख-दुःख के साथी होते हैं. अगर रिश्तों की बात करें तो हमारे तमाम रिश्ते जन्म लेते ही मिल जाते हैं. लेकिन इस दोस्ती के रिश्ते में उपर वाले का वरदान ही होता है जो हमें स्वयं यह रिश्ता बनाने का अवसर मिलता है.

इस रिश्तें में अगर एक साथी को सफलता मिलती है तो दूसरे को भी उतनी ही खुशी होती है, मानों उसे भी सफलता मिली हो. दोस्ती में खून के रिश्ते की जरूरत नहीं पड़ती. अगर आप किसी को हमेशा अपने पास रखना चाहते हैं तो फिर उसे एक सच्चा दोस्त बना लें.

दोस्ती का कोई मजहब नहीं होता. बगैर किसी बंधन के हम जिससे चाहे दोस्ती कर सकते हैं. दो लोगों के बीच के समर्पण की भावना को ही दोस्ती कहा जाता है. यहां बिना किसी स्वार्थ के एक दूसरे प्रति कर्तव्य निष्ठा की भावना है.

जाति-धर्म की बंदिशों से दूर होती है दोस्ती – Friendship Day

दोस्ती (Friendship Day) उन लोगों के बीच होती है जिनकी भावनाए, विचार व पसंद समान हो. वैसे तो दोस्ती में जाति-धर्म, उम्र, लिंग आदि की कोई सीमा नहीं होती. लेकिन कई बार ऐसा देखा गया है आर्थिक असमानता भी दोस्ती को नुकसान पहुंचाती है.

तभी कहा जाता है कि दोस्ती आर्थिक रूप से बराबरी वाले के साथ ही करनी चाहिए.कुछ दोस्त ऐसे भी होत हैं जो केवल आपके सुख में साथ देते हैं. जबकि ईमानदार व सच्चे दोस्त ही हर तकलीफ में हमारे साथ खड़े रहते हैं.

खराब समय आने पर ही हमें अच्छे व बुरे दोस्त की पहचान होती है. हालांकि किसी भी रिश्ते में संतुलन बनाए रखना जरूरी होता है.दोस्तों के साथ रहने पर तो हर दिन फ्रेंडशिप डे जैसा ही होता है.

Children reading a book

हालांकि इस खास दिवस (Friendship Day) को सेलीब्रेट करने के लिए ही एक विशेष दिन का चयन किया गया है. अगस्त के पहले रविवार को भारत समेत कई अन्य देशों में भी इस दिवस का पालन किया जाता है. यह जानना जरूरी है कि बरसों तक दक्षिण अमेरिकी देशों खासकर पैराग्वे में फ्रेंडशिप डे का पालन किया जाता है.

वर्ष 1958 में पहले अंतरराष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे का पालन करने का प्रस्ताव रखा गया था. शुरू के दिनों में तो ग्रीटिंग कार्ड्स का प्रचलन था। धीरे-धीरे इंटरनेट की वजह से इसका भारत व बांग्लादेश में भी विस्तार हो गया.

एक वफादार दोस्त दस हजार रिश्तेदारों के बराबर है

यहां जानते हैं फ्रेंडशिप डे का इतिहास – Friendship Day

कहा जाता है कि वर्ष 1935 में अगस्त के पहले रविवार को अमेरिका में वहां की सरकार ने एक निर्दोष को मार दिया था. उस व्यक्ति की याद में उसके एक दोस्त ने आत्महत्या कर ली थी. इन दोनों निर्दोष लोगों की मौत पर पूरी जनता ने गुस्सा दिखाया था.

तभी दक्षिणी अमेरिकी लोगों ने इस दिन को अंतरराष्ट्रीय मैत्री दिवस के रूप मे मनाने का प्रस्ताव अमेरिकी सरकार के समक्ष रखा था. लेकिन सरकार ने 21 साल बाद उनकी बात मानी. वर्ष 1958 में सरकार ने उनके प्रास्ताव को मंजूर किया था.

जिसके बाद से अगस्त के पहले रविवार को अंतरराष्ट्रीय मित्रता दिवस घोषित किया गया. शुरुआत में ग्रीटिंग कार्ड्स का चलन था, लेकिन इंटरनेट के प्रचार प्रसार ने भारत और बांग्लादेश जैसे देशों में भी मशहूर कर दिया.

1. पहली बार वर्ष 1919 में हॉलमार्क कार्ड के संस्थापक जोस हॉल ने दोस्ती मनाने का सुझाव दिया था.

2. फिर वर्ष 1935 में यूनाइटेड स्टेट्स कांग्रेस ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे (Friendship Day) पालन करने की घोषणा की थी.

3. 30 जुलाई 1958 में पहली बार फ्रेंडशिप डे को अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हुई थी.

4. हालांकि इसे सबसे पहले अमेरिका में मनाया गया था.

आज भी है फ्रेंडशिप बैंड का है चलन – Friendship Day

5. दोस्ती के प्रतीक इस दिवस पर फ्रेंडशिप बैंड, कार्ड व गिफ्ट देने का प्रचलन है.

6. साल 1997 में मिल्न के कार्टून किरदार विन्नी द पूह को संयुक्त राष्ट्र की तरफ से दोस्ती का अंतरराष्ट्रीय दूत चुना गया था.

7. इंडिया में फ्रेंडशिप डे का पालन अगस्त के पहले रविवार को किया जाता है. जबकि दक्षिण अमेरिकी देशों में जुलाई महीने को पावन माना जाता है. इसलिए वहां जुलाई के अंत में इस दिवस का पालन किया जाता है.

8. बांग्लादेश व मलेशिया में डिजिटल कम्यूनिकेशंस के तहत यह दिन ज्यादा फेमस हो चुका है. यूनाइटेड नेशंस की तरफ से भी इस दिन पर मुहर लगाई गई थी.

9. फ्रेंडशिप डे के 10 वर्ष पूरे होने पर फेमस बैंड बीटल्स ने 1967 में एक गाना रिलीज किया था. वह गाना पूरी दुनिया में काफी चर्चित भी हुआ था.

10. आर्जेंटीना, ब्राजील, इक्वाडोर व उरुग्वे देशों में प्रति वर्ष 20 जुलाई को फ्रेंडशिप डे पालन करने की परंपरा कायम है.

भले यह दिवस दुनिया के हर देशों में अलग-अलग तारीख पर मनाई जाती हो लेकिन इसे मनाने की भावना हर जगह समान ही है, ‘दोस्ती का सम्मान’ करना. #InternationalFriendshipDay

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here