Home Health Care बच्चों के दांत निकलते वक्त होने वाली परेशानी से ऐसे बच सकते...

बच्चों के दांत निकलते वक्त होने वाली परेशानी से ऐसे बच सकते हैं!

हर माता-पिता बच्चे के दांत (child teeth) निकलने का बड़ी बेसब्री से इंतजार करते हैं और यह पल उनके लिए बहुत खुशियों भरा होता है. वैसे तो हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चे के दांत बिना तकलीफ के निकले, पर दांत निकलने के दौरान बच्चे को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

इस दौरान हर बच्चे में एक सामान्य बीमारी है दस्त का होना. इसके अलावा भी बच्चे को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इस दौरान अभिभावकों को बच्चे पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है. बच्चे के जन्म लेने के कुछ महीने बाद उनका दांत (child teeth) निकलना शुरू होता है. पर इस बारे में सटीक जानकारी नहीं होने की वजह से अभिभावकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

दांत निकलने के दौरान मसूढ़ों में सूजन की वजह से वह लाल हो जाता है और उसमें होने वाले दर्द की वजह से बच्चा हमेशा रोता रहता है. ऐसे वक्त में बच्चे को दर्द से राहत दिलाने के लिए विशेष देखभाल की जरूरत होती है.

KID
dw

ये कुछ ऐसे टिप्स हैं जिसे अपनाने पर बच्चे के दांत निकलने के दौरान होने वाली परेशानियों से आपको मुक्ति मिलेगी.

1. दांत निकलने के लक्षणः

  • बच्चे के दांत निकलने के दौरान उसे सबसे ज्यादा समस्या दस्त की होती है. इस दौरान बच्चे के पेट में दर्द व कब्ज की समस्या भी बहुत ज्यादा दिखती है.
  • बच्चे में दांत निकलते वक्त उनके मसूढ़ों में दर्द, खुजली व सूजन भी होता है. विशेषज्ञों का मानें तो जिस बच्चे को गंदी बोतलों से दूध पिलाया जाता है उन्हें दांत निकलने के दौरान बीमार पड़ने की संभावनाएं ज्यादा रहती है.
  • बच्चों के दांत निकलते वक्त उनका सिर गर्म रहता है और उसे लगातार दस्त की समस्या रहती है.
  • बच्चों के मसूढे सख्त होने लगते हैं और उन्हें मसूढ़ों में दर्द भी होता है.
SAD KID
mycity4kids
  • दांत निकलने के दौरान होने वाले दर्द व खुजली की वजह से बच्चा लगातार रोता रहता है. ऐसे में देखा जाता है कि बच्चे को जो चीजें सामने मिलती है वह उसे उठाकर सीधे मुंह में रख लेता है.
  • दांत निकलने से होने वाले दर्द की वजह से बच्चे चिड़चिड़े हो जाते हैं और उनका रोना पूरे दिन जारी रहता है. इसकी वजह से बच्चा आंखों को मसलना व बालों को खींचना शुरू कर देते हैं.

Read also: क्या आपके बच्चे को भी बीमार बना रहा सोशल मीडिया!

2. ध्यान रखने वाली बातेंः

  • जब बच्चे के दांत निकलने शुरू हो तब उन्हें बिल्कुल नरम चीजें खिलाना जरूरी होता है. जैसे खिचड़ी, दलिया, सूजी का खीर, संतरे का जूस, उबला हुआ सेब आदि.
  • बच्चे के लिए विटामिन, प्रोटिन, कैल्सियम, आरयन आदि देना ज्यादा जरूरी होता है. जब बच्चे का दांत निकल रहा हो उस वक्त उसके भोजन में ऐसी चीजों को शामिल किया जाए जिसमें ये सारी चीजें पर्याप्त मात्रा में पाई जाए.
  • छोटे बच्चों को कुछ घंटे के लिए धूप में रखना काफी फायदेमंद साबित होता है. धूप में प्राकृतिक विटामन डी होने की वजह से यह बच्चे की हड्डियों व दातों को मजबूती प्रदान करता है.
  • ध्यान रखें कि अगर बच्चा 10 महीने का हो गया हो और उसके दांत ना निकले तो उसे कैल्सियम सिरप जरूर दें.
happy child
shkolazhizni
  • जब बच्चा दांत निकलने से परेशान हो तो उसके पैरों की मालिश करना बेहतर उपाय है. पैरों की मालिश होने से बच्चे को दांतों में होने वाले दर्द का एहसास कम होता है. मालिश होने से बच्चा शांत होकर सो जाता है.

Read also: क्या आपके बच्चे के लिए सुरक्षित है डे-केयर?

  • बच्चे को मल्टी विटमिन ड्रॉप्स भी देना उसके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है.
  • बच्चे में दांत निकलने व चलना सीखने की उम्र लगभग एक ही होती है. ऐसे में दांत निकलने के वक्त जब बच्चा घुटने के बल चल रहा होता है तो उसके सामने आने वाली हर चीज को वह उठाकर सीधे मुंह में ही रखता है. इसलिए फर्श को साफ रखते हुए उस पर कोई भी ऐसी चीज ना पड़ी हो जिसे उठाकर बच्चा मुंह में डाल ले.
crawling baby
sheknows
  • बच्चे को खेलने के लिए खिलौना देते वक्त ध्यान रखें कि खिलौना बिल्कुल भी गंदा ना हो क्योंकि बच्चे खिलौने को भी खेलते-खेलते मुंह में डालते हैं. अगर खिलौने गंदे होंगे तो बच्चे में मुंह में कीटाणु जाएंगे और जिससे बच्चा बीमार हो सकता है.
  • दांत निकलने के दौरान बच्चे के मसूढ़े में खुजली होती है तो इस दौरान उसे बिस्किट व गाजर जैसी चीजें पकड़ा दें जिसे खाने से उसके मसूढ़े में होने वाली खुजली शांत हो.
  • ऐसे समय में बुखार का आना भी सामान्य समस्या है और इससे घबराने वाली कोई बात नहीं है. दांत निकलते वक्त बुखार आने पर चिकित्सक की सलाह लेकर बच्चे को दवा खिलाने से भी बुखार ठीक हो जाता है.
  • इस समय बच्चे को होने वाली छोटी-छोटी परेशानियों में भूख कम लगना भी शामिल है. भूख कम लगने की वजह से है बच्चे दूध पीते वक्त रोते रहते हैं. बच्चा अगर छह महीने से ज्यादा का हो तो उसे कुछ नरम चीजें भी खिला सकते हैं. यह बच्चे के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here