Home Health Care आयुष्मान खुराना की पत्नी ने ऐसे दिया कैंसर को मात!

आयुष्मान खुराना की पत्नी ने ऐसे दिया कैंसर को मात!

208
0

फिल्म अभिनेता व गायक आयुष्मान खुराना (Ayushman Khurrana) जिन्होंने टीवी की दुनिया में एंकरिंग के माध्यम से नया मुकाम स्थापित किया था. 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में उन्हें फिल्म ‘अंधाधुन’ के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला है.

Ayushman Khurrana

उनकी दो फिल्में ‘अंधाधुन’ व ‘बधाई हो’ को भी राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया है. आयुष्मान खुराना आज हर वर्ग के लोगों की पसंद हैं. चाहे टीवी की दुनिया बोलें या फिल्मों की दुनिया.

बहुत कम लोग जानते हैं कि आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप ने कैंसर को मात दिया है. पिछले वर्ष उनके ब्रेस्ट कैंसर (Symptoms of breast cancer) का खुलासा हुआ था.

इसकी जानकारी खुद ताहिरा ने ही लोगों के साथ साझा की थी. उन्होंने कहा था कि कैंसर (Symptoms of breast cancer) का पता चलने के बाद पति आयुष्मान ने उनका काफी समर्थन किया था.

आयुष्मान से ही उन्हें कैंसर की लड़ाई लड़ने की हिम्मत मिली थी. आंतरिक मजबूती की वजह से ही उन्होंने कैंसर के जंग को जीत लिया था.

कैंसर से डरें नहीं लड़ें –

सोशल मीडिया पर किए गए एक पोस्ट में ताहिरा ने लोगों को इस बीमारी (Symptoms of breast cancer) से डरने की बजाय लड़ने का संदेश दिया था. बात भी सही है कि कैंसर का नाम सुनते ही लोगों के मन डर व्याप्त हो जाती है.

लोग टूट जाते हैं और उन्हें लगता है कि अब जिंदगी समाप्त हो चुकी है. जबकि ऐसा नहीं है अगर परिवार का सहयोग मिले तो, हिम्मत मिले तो व्यक्ति कितनी भी गंभीर बीमारी को मात दे सकता है.

कैंसर जैसी बीमारी से हर वर्ष हजारों लोगों की मौत हो जाती है. इस बीमारी को नियंत्रित करने के लिए लोगों में जागरूकता का होना बहुत जरूरी है.

स्तन कैंसर एक घातक बीमारी है, जो ना सिर्फ महिलाओं में बल्कि पुरुषों में भी यह बहुत ज्यादा देखी जा रही है. इसके बचाव का एकमात्र उपाय जागरूकता ही है.

विशेषज्ञ की मानें तो कैंसर के वास्तविक कारणों का पता नहीं चल पाया है. लेकिन अनुमान है कि यह हार्मोनल या अनुवांशिक कारणों से होता है.

स्तन कैंसर के क्या हैं कारण –

1. स्तन कैंसर (Symptoms of breast cancer) किसी भी उम्र के लोगों को अपना शिकार बना सकता है.

2. इसका एक कारण गर्भ निरोधक गोली का सेवन करना व हार्मोन की गड़बड़ी भी माना जाता है.

3. मादक पदार्थों का सेवन या धूम्रपान करना भी कैंसर के खतरे को बढ़ा देता है.

4. अगर परिवार में किसी को कैंसर होता है, तो वंशानुगत कारणों से भी इस बीमारी की आशंका बढ़ जाती है.

क्या है लक्षण –

1. त्वचा में सूजन, लाली, खिंचाव या गड्ढ़े पड़ना

2. स्तन में लगातार दर्द रहना

3. स्तन के साइज में असामान्य बदलाव

4. लंबे समय से बना कोई गांठ जिसमें दर्द महसूस नहीं होता हो

5. स्तन में खून की नलियां साफ-साफ दिखना

ऐसे कर सकते हैं जांच –

1. अगर किसी महिला को स्तनों में किसी तरह की गांठ का पता चले तो समय नष्ट किए बगैर तुरंत विशेषज्ञ की सलाह लें.

2. महिलाएं खुद हर महीने स्तनों की जांच करें कि उसमें कोई गांठ तो नहीं है.

3. ब्रेस्ट स्क्रीनिंग के लिए एमआरआई और अल्ट्रासोनोग्राफी भी की जाती है. इस जांच से समय रहते पता चल जाता है कि कैंसर शरीर के अन्य अंगों में तो नहीं फैल रहा.

4. हर किसी को 40 वर्ष की उम्र में एक बार और फिर 2 वर्ष में मेमोग्राफी करवाना ही चाहिए. इससे शुरुआत के दिनों में ही स्तन कैंसर का पता लग जाता है.

स्तन कैंसर से बचाव –

1. नशीली चीजों का सेवन करना स्तन कैंसर (Symptoms of breast cancer) की आशंका को बढ़ाता है. इसलिए धूम्रपान, गुटखा व तंबाकू ही नहीं बल्कि शराब का सेवन करना भी स्तन कैसर को बढ़ावा देना है.

2. शरीर के अतिरिक्त वजन को कम करना कैंसर से बचाव का रास्ता है.

3. फल, हरी सब्जियां व साबुत अनाज को भोजन में शामिल कर स्तन कैंसर से कारणों से बचा जा सकता है.

4. हर सप्ताह 3 घंटे दौड़ लगाने या 13 घंटे पैदल चलने वाली महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर की आशंका 23 फीसदी कम होती है.

Tahira Kashyap

अन्य कैंसर के लक्षणों को भी जानें –

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की तरफ से इस बीमारी को घातक माना गया है. इसकी तरफ से कैंसर को पहचानने के कुछ लक्षण बताए गए हैं. जैसे –

1. आहार निगलने में रुकाव आना

2. लंबे समय तक गले में खराश रहना

3. लगातार खांसी आना

4. वजन में गिरावट आना

5. आवाज बदल जाना

6. शरीर में गांठ पड़ना

7. शरीर के किसी भी हिस्से से पानी ये रक्त निकलना

8. शरीर में निकले तिल या मस्से में परिवर्तन आना

9.लंबे समय तक बुखार रहना

10. मुंह में छाले आना

11. मल या टॉयलेट के साथ रक्त निकलना

12. शरीर के किसी हिस्से में लगातार दर्द रहना

13. बगैर मेहनत किए थकान महसूस होना

14. हमेशा पेट फूलने की समस्या

15. स्तनों में बदलाव

16. यूरिन पास करने में परेशानी

17. भूख न लगना

18. नाखूनों में परिवर्तन भी है कैंसर के लक्षण

29. चेहरे पर सूजन की समस्या

20. शरीर के किसी अंग में असामान्य बदलाव महसूस होना

कैंसर बहुत तेजी से फैलने वाली बीमारी है. इसका नाम लेते ही लोगों में डर की भावना उत्पन्न हो जाती है. जहां तक ब्रेस्ट कैंसर की बात है तो यह बीमारी लाइलाज नहीं है. लेकिन इसका समय रहते इलाज शुरू करना जरूरी है.

तभी इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है. इस आलेख से आपकी समस्या समाधान होगा. क्योंकि अगर आप यहां बताए गए लक्षणों की तरफ दें तो समय रहते इस बीमारी का इलाज शुरू किया जा सकता है. #AyushmanKhurrana

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here