Home Health Care आपका शरीर भी तो नहीं दे रहा दिल की बीमारी का संकेत!

आपका शरीर भी तो नहीं दे रहा दिल की बीमारी का संकेत!

दिल की बीमारी का संकेत महीनों पहले से से ही आने लगता है. अगर समय रहते इसके प्रति सचेत हो जाएं तो इसे काफी हद तक नियंत्रित किया जा सकता है. Symptoms of heart Disease

268
0
Heart Disease

एक व्यक्ति के हृदय की धमनी में आई सूजन का मुंबई के चिकित्सकों ने सफल ऑपरेशन किया है. जिंदगी और मौत से लड़ रहे मरीज की जान बचाने के लिए यह ऑपरेशन करीब 11 घंटे तक चली.

64 वर्षीय ओमप्रकाश गोयनका को जब एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती किया गया था तब उनकी हालत बहुत ही नाजुक थी. वे ठीक से सांस भी नहीं ले पा रहे थे.

कार्डियो थोरैसिक सर्जन और एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के वाइस प्रेसीडेंट डॉक्ट र रमाकांता पांडा ने कहा, कि भर्ती होते ही उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था.

पूरी जांच प्रक्रिया में पता चला कि उनके हृदय की मुख्य धमनी (इओर्टा) अपने सामान्य आकार से तीन गुणा ज्यादा सूज गई थी.

जिसकी वजह से श्वास नलिका पर दबाव पड़ रहा था. सूजन बहुत ज्यादा होने की वजह से ही मरीज की हालत गंभीर हो गई थी. अगर इलाज में जरा सी भी देरी की जाती तो रोगी की मौत होने की पूरी संभावना थी.

इस सर्जरी में बीटिंग हार्ट तकनीक का इस्तेमाल करते हुए डॉक्टरों ने एक जटिल हार्ट सर्जरी (Symptoms of Heart Disease) की है. इसमें हार्ट व मस्तिष्क में रक्त की आपूर्ति के लिए रि रुटिंग किया जाना शामिल था.

चिकित्सकों ने चार बायपास ग्राफ्ट रखा था व बड़े एन्यूरिजम को नियमित रक्त संचार करने से रोकने के लिए एक स्टेंट मरीज के एओर्टा में रखा गया था.

ट्रेकियोस्टोमी प्रक्रिया को अपनाया –

मरीज को सांस लेने में आसानी हो इसके लिए चिकित्सकों ने उस पर ट्रेकियोस्टोमी प्रक्रिया की. ट्रेकियोस्टोमी प्रक्रिया में सर्जरी कर गले में सांस की नली में छेट किया जाता है.

सांस लेने के लिए एक ट्यूब जिसे ट्रेक ट्यूब कहा जाता है. इस छेद में से सीधे आपकी श्वास नलिका में रखा जाता है, ताकि मरीज सांस ले सके.

पहले के जमाने में ऐसा होता था कि बहुत सारी बीमारियां बढ़ती उम्र के साथ होने लगती थी. अगर आप आज के लाइफ स्टाइल को देखें तो 30-40 वर्ष की उम्र में ही लोगों में दिल की बीमारियां (Symptoms of Heart Disease) देखने के मिल रही है.

पिछले दो दशकों की बात करें तो इंडिया में गलत लाइफ स्टाइल, तनाव, एक्सरसाइज ना करने व बैड फूड हैबिट्स के कारण लोगों को दिल संबंधी गंभीर रोग होने लगे हैं.

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 1970-2000 के बीच 300 फीसद हार्ट की बीमारियां बढ़ गई है. यानी दिन प्रतिदिन इस बीमारी में वृद्धि ही हो रही है.

वैसे तो लोग कहते हैं कि हार्ट अटैक अचानक आता है पर बहुत कम लोग जानते होंगे कि दिल का दौरा (Symptoms of Heart Disease) अचानक आने से कई दिन या महीने पहले हमें संकेत देता है.

लेकिन जानकारी के आभाव में हम आने वाली इस घातक बीमारी को अनदेखा कर देते हैं. अगर आपको इस खतरनाक बीमारी से बचने के उपाय पता हो तो खुद के स्वास्थ्य की रक्षा करना बहुत ही आसान होगा.

इसलिए सबसे पहले इसके लक्षणों (Symptoms of Heart Disease) को जानना बहुत जरूरी है. तभी आप इसके प्रति बचाव कर पाएंगे.

Heart Disease

ये रहे लक्षण –

1. सीने में दर्द महसूस होना –

आदि आपकी आर्टरी ब्लॉक है या फिर हृदय संबंधी कोई अन्य बीमारी. तो ऐसे में सीने में दर्द व दबाव के साथ-साथ असहज महसूस होना. छाती के बीच में बेचैनी, दर्द, जकड़न, दबाव व भारीपन जैसा अनुभव होना.

2. सर्दी-जुकाम का लंबे समय तक रहना – (Symptoms of Heart Disease)

आमतौर पर देखा जाता है कि लोग सर्दी-जुकाम को हल्के में लेते हैं. अगर आपको भी बहुत दिनों से सर्दी-जुकाम की समस्या हैं तो. इसे नजरअंदाज ना करें.

जल्द से जल्द इसे डॉक्टर को दिखाएं. जुकाम का लंबे समय तक रहने का एक मतलब यह भी होता है कि शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाना. जिसकी वजह से शरीर का इम्यून सिस्टम खराब हो जाता है.

3. सूजन की समस्या –

अगर आपके हाथ,पैर में सूजन की समस्या रहे यह समझना चाहिए कि हार्ट खून को सही से पंप नहीं कर पा रहा है. जिसकी वजह से शरीर में सूजन की समस्या रहती है.

4. सांस लेने में दिक्कत –

अधिक तनाव व दबाव होने की वजह से सांस लेने में अधिक तकलीफ होने लगती है. यानी आपकी सांस लेने की स्थिति सामान्य नहीं रहती है. सांस लेने में परेशानी होना दिल की बीमारी का ही लक्षण है.

5. हर वक्त थकान महसूस होना – (Symptoms of Heart Disease)

बगैर भारी-भरकम काम किए अगर आपको थकान महसूस हो तो यह गंभीर समस्या है. ऐसे में आपको तुरंत ही डॉक्टर के साथ संपर्क स्थापित करना चाहिए.

6. बहुत ज्यादा पसीना आना –

पसीना आना तो सामान्य है. लेकिन अगर बगैर किसी काम को किए आपको सामान्य से अधिक पसीना आता है तो यह गंभीर समस्या है. अधिक पसीना आना भी दिल की बीमारी के लक्षणों में शामिल है.

7. पैरों में सूजन –

दिल में ब्लड का सर्कुलेशन सही नहीं रहने पर पैरों में, टखनों में, तलवों व एंकल्स में दर्द की समस्या घर कर जाती है. यानी यह भी हार्ट की बीमारी का एक संकेत है.

8. चक्कर आना –

दिल की बीमारी के मरीज में सिर घूमना व चक्कर आना भी एक प्रमुख लक्षणों में शामिल है.

9. शरीर के विभिन्न अंगों में दर्द की समस्या –

हाथ, कमर, गला व जॉ में भी दर्द दिल की बीमारी में होता है.

10. हार्ट बर्न व पेट दर्द –

दिल संबंधी कोई बीमारी होने से पहले मितली आना, हृदय में जलन, पेट में दर्द के साथ पाचन संबंधी दिक्कतें भी सामने आती है.

दिल की बीमारी को ऐसे रखें नियंत्रित –

1. तनाव से रहें दूर –

तनाव आजकल हर किसी के जीवन का हिस्सा बन गया है. देखा जाए तो हर व्यक्ति किसी न किसी वजह से तनाव में है. चाहे वो घर-परिवार का टेंशन हो या दफ्तर का.

जबकि किसी भी इंसान के लिए तनाव में रहने उसके दिल के लिए खतरनाक है. हृदय की बीमारी की मुख्य वजह तनाव को ही माना जाता है. इसलिए हर संभव तनाव मुक्त रहने का प्रयास करें.

2. टहलने की आदत डालें –

हर दिन आधे घंटे तक टहलने की आदत जरूर डालें. टहलने की रफ्तार को सामान्य रखें ताकि सीने में भी दर्द न हो और हांफना भी शुरू ना कर दें. आप सुबह, शाम या फिर रात को खाने के बाद किसी भी वक्त अपनी सुविधानुसार टहल सकते हैं।

3. रेशेदान भोजन करें – (Symptoms of Heart Disease)

हृदय को स्वस्थ बनाए रखने के लिए रेशेदार भोजन का सेवन करना जरूरी है. रेशेदार भोजन करने से कोलेस्ट्रोल बढ़ाने में मदद मिलती है. इससे पाचन शक्ति अच्छी रहती है.

4. व्यायाम की आदत डालें –

रोजाना हल्के व्यायाम की आदत डालें. यह तनाव के साथ-साथ रक्त के दबाव को भी कम करेगा. इससे हृदय रोग नियंत्रण में मदद मिलेगी.

5. वजन सामान्य रखना जरूरी –

स्वस्थ हृदय के लिए शरीर का वजन सामान्य रहना जरूरी है. तेल से परहेज कर और निम्न रेशे वाले अनाजों व उच्च किस्म के सलादों के सेवन से आप वजन को नियंत्रित रख सकते हैं.

इस आलेख में दिल की बीमारी के संकेत दिए गए हैं. अगर यह लक्षण किसी में दिखाई दे तो तुरंत ही हार्ट विशेषज्ञ की सलाह लें.

दिल की बीमारी से संबंधित रोग होने पर उसके लक्षण करीब 1 महीने पहले से ही दिखने लगते हैं. अगर आप समय रहते चिकित्सक से परामर्श लेते हैं तो किसी खतरनाक बीमारी को टाला जा सकता है. #HeartDisease

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here