Home Parenting बच्चों को आउटडोर गेम्स खेलने से फायदे और नुकसान

बच्चों को आउटडोर गेम्स खेलने से फायदे और नुकसान

अगर बच्चा आउटडोर गेम खेलता है तो इससे बच्चे का मानिसक और शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर होता है. बच्चों के आउटडोर गेम (Advantages and disadvantages of playing outdoor games in Hindi) खेलने के बहुत सारे फायदे हैं.

आजकल के बच्चों को आउटडोर से ज्यादा इंडोर गेम खेलना पसंद आता है. अभी के ज्यादातर बच्चे टेलीविजन, स्मार्टफोन और अन्य गैजैट्स में पूरे दिन लगे रहते हैं. लेकिन इस तरह पूरे दिन टीवी पर कार्टून देखना और घंटों तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल करना उनकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है.

advantages-and-disadvantages-of-playing-outdoor-games-in-hindi

इसके विपरीत अगर बच्चा आउटडोर गेम खेलता है तो इससे बच्चे का मानिसक और शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर होता है. बच्चों के आउटडोर गेम (Advantages and disadvantages of playing outdoor games in Hindi) खेलने के बहुत सारे फायदे हैं. तो अब यह जानना जरूरी है कि उनके लिए बेहतरीन आउटडोर गेम्स कौन-कौन से हैं.

आउटडोर गेम्स के फायदेAdvantages of playing outdoor games

आउटडोर गेम्स सभी उम्र के बच्चों फायदेमंद साबित होता है. जैसे-

1. नई चीजें सीखने का अवसर मिलता है

आउटडोर गेम खेलने से बच्चों में उनके सीखने की क्षमता का विकास होता है. बच्चे के स्किल्स में सुधार आता है जिससे उनमें किसी भी समस्या को समाधान करने के एटीट्यूड डेवलप होता है. घर के बाहर खेलने पर बच्चे प्रकृति को भी नजदीक से जान पाते हैं. बाहर सीखने वाली चीजों को बच्चे फन एक्टिविटी के रूप में सीखते हैं, जिससे वे कभी बोर भी नहीं होते.

2. क्रिएटिविटी बढ़ाने में करे मदद

आउटडोर गेम्स खेलने वाले बच्चे बहुत क्रिएटिव होते हैं. इससे उनकी इमेजिनेशन स्किल्स बढ़ती है. इमेजिनेशन पॉवर बढ़ने के कारण ही बच्चे की क्रिएटिविटी भी बढ़ती है.

3. शारीरिक विकास में मिलती है मदद

आउटडोर गेम्स खेलने पर बच्चे हमेशा एक्टिव रहते हैं और उनका शारीरिक विकास होता है. आउटडोर गेम्स खेलने से बच्चे की मांसपेशियां, हड्डियां और इम्युनिटी भी मजबूत होती है. इतना ही नहीं उनमें डायबिटीज, हार्ट और मोटापे जैसी कई बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है. बच्चे जब बाहर खेलते हैं तो उन्हें ताजी हवा और धूप मिलती है, जिससे बच्चों को विटामिन डी पर्याप्त रूप से मिलता है. एक तरफ जहां बच्चे के ज्यादा समय तक इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के संपर्क में रहने से उनकी दृष्टि खराब हो सकती है. वहीं दूसरी तरफ आउटडोर गेम खेलने से उनकी दृष्टि और सुधार आता है.

4. सोशल स्किल करे बेहतर

आउटडोर गेम्स में बच्चे अन्य बच्चों के साथ मिलकर खेलते हैं. दूसरे बच्चों के साथ खेलने पर घर में रहने वाले बच्चों की अपेक्षा ये बच्चे लोगों के साथ बातचीत करने में बेहतर होते हैं. किसी बी व्यक्ति के साथ बात करने में इन्हें कोई झिझक नहीं होती है. आपका बच्चा भी अगर हमेशा घर के दर ही रहता है तो आप उसे बाहर जाकर दूसरे बच्चों के साथ खेलने को बोलिए. बच्चे जब नए-नए दोस्त बनाते हैं तो वे बड़ों की देख-रेख के बगैर ही खुद अपने दोस्तों के साथ खेलने जाते हैं. ऐसे में उन्हें पता भी नहीं चलता और उनमें सोशल और कम्युनिकेशन स्किल बोहेतर होने लगता है. यह स्किल भविष्य में बच्चे के बहुत काम आती है.

5. पॉजिटिव एटीट्यूड बनाए रखना

घर के बाहर खेलने वाले बच्चों में पॉजिटीव एटीट्यूड अपने आप ही विकसित होने लगती है. पॉजिटिव एटीट्यूड के कारण बच्चा हमेशा खुश रहने लगता है.

6. बच्चे का अटेंशन स्पैन होता है बेहतर

घर के बजाय आउटडोर गेम्स खेलने से बच्चों में किसी विषय पर ध्यान केंद्रित करने की क्षमता बढ़ती है. आउटडोर गेम से बच्चे के कॉन्सेंट्रेशन, ऑब्जरवेशन और रीजनिंग स्किल में भी सुधार होता है. अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर वाले बच्चे आउटडोर गेम्स खेल सकते हैं. ताकि उनका अटेंशन स्पैन भी बेहतर हो.

7. हेल्दी लाइफस्टाइल को बढ़ावा

हमेशा आउटडोर गेम्स खेलने वाले बच्चे की लाइफस्टाइल संतुलित होने की अधिक संभावना होती है. इन बच्चों में निर्णय लेने की बेहतर क्षमता होती है. ये बच्चे खुद को चुनौती देना सीखते हैं और हर चीज में अपना बेहतर देने की कोशिश करते हैं.

8. पर्सनालिटी विकास में मदद

आउटडोर गेम्स का बच्चे की पर्सनालिटी पर बहुत प्रभाव पड़ता है. इन तरह के गेम्स खेलने वाले बच्चे स्वतंत्र और आत्मनिर्भर होना सीखते हैं. आउटडोर गेम्स बच्चे में आत्मविश्वास जगाता है, जिससे बच्चा जीवन मं आने वाली मुश्किलों का सामना करना सीखता है. साथ ही आउटडोर गेम्स से बच्चे में अनुशासन और लीडरशिप की भावना भी विकसित होती है. ये सभी चीजें बच्चे के जीवन में मददगार साबित होते हैं.

आउटडोर गेम्स के नुकसानDisadvantages of playing outdoor games

एक तरफ आउटडोर गेम खेलने के फायदे हैं तो दूसरी तरफ इसके नुकसान भी हैं. जैसे-

  • बहुत ज्यादा आउटडोर एक्टिविटी पसंद करने वाले बच्चे पढाई में कम समय देते हैं. इसलिए यह ध्यान रखना जरूरी है कि खेल के साथ-साथ बच्चे पढ़ाई पर भी पर्याप्त ध्यान दें.
  • कई बार बच्चे लंबे समय तक खेलते ही रह जाते हैं, जिसकी वजह से उनको काफी फिजिकल स्ट्रेन पड़ता है.
  • किसी बड़े की देख-रेख के बगैर बाहर खेलने जाने पर कई बार बच्चों को चोट लगने का खतरा रहता है.

आउटडोर गेम खेलने के लिए बच्चों को ऐसे प्रोत्साहित करें

अपने बच्चे के लिए आउटडोर गेम को मजेदार बनाने से उन्हें इसे खेलने में अधिक मजा आएगा और उनका रुझान भी इस ओर बढ़ेगा. आप अपने बच्चे के तमाम पसंदीदा खिलौनों जैसे बॉल, मॉडलिंग क्ले, रेसिंग कार, आदि को बाहर ले जाएं और उन्हें इसे अलग तरह से खेलने के लिए प्रेरित करें. यहां कुछ टिप्स हैं, जिनका पालन करके आप बच्चे को आउटडोर गेम खेलने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं.

1. उदाहरण के साथ समझाएं

आउटडोर गेम्स खेलने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित करने का सबसे बेस्ट तरीका है उनके साथ खेलना. आप बर्ड फीडर बनाकर या दीवार को पेंट करने जैसी इंट्रेस्टिंग एक्टिविटी से उनका ध्यान आकर्षित करें. बच्चा जब आपको कुछ अलग करते हुए देखेगा तो वह खुद ही इसे करना चाहेगा और आपके साथ इसे एंजॉय करेगा.

2. बच्चे को लेकर पार्क में जाएं

बच्चे को पार्क में लेकर जाने से ही उन्हें आउटडोर गेम्स खेलने का प्रोत्साहन मिलेगा. इसलिए आप बच्चे को लेकर पास के पार्क में जाएं और वहां उन्हें न्य बच्चों के साथ खेलने दें. दूसरे बच्चों को देखकर आपका बच्चा उत्सुक हो सकता और वह उनके साथ खेलना भी चाहेगा.

3. बच्चे को लेकर सैर पर जाएं

बच्चे में बाहर जाने के प्रति रुचि जगाने के लिए उन्हें सैर पर लेकर जाएं. बच्चे के साथ बोटिंग और कैम्पिंग करें. ऐसे में उन्हें आउटडोर एक्टिविटी में मजा आएगा.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here