Home Calture क्या सच में बच्चे का सिर मुंडवाने से आते हैं घने बाल?...

क्या सच में बच्चे का सिर मुंडवाने से आते हैं घने बाल? – Bachche Ka Mundan

बच्चे के बाल घने और अच्छे आए, इसके लिए एक उम्र के बाद बच्चे का मुंडन (Bachche Ka Mundan) करवाना जरूरी होता है. इस विषय की विस्तृत जानकारी के लिए इस आलेख को पढ़ें.

बहुत सारे लोगों का मानना है कि अगर बच्चे का सिर मुंडवाया जाए तो उसके बाल घने हो जाते हैं. अगर आपके बच्चे के बाल भी पतले हैं तो आप भी सोच रहे होंगे कि उसका मुंडन करवा दिया जाए, ताकि बच्चे के बाल घने और मोटे हो जाएं. एशिया में भी इस रीति का पालन किया जाता है. बच्चे के बाल घने और अच्छे आए, इसके लिए एक उम्र के बाद बच्चे का मुंडन (Bachche Ka Mundan) करवाना जरूरी होता है.

Bachche Ka Mundan

हिंदू संस्कृति में भी मुंडन संस्कार की पुरानी परंपरा है. लेकिन यह जानना जरूरी है कि क्या सच में बच्चे का सिर मुंडवाने से उसके बाल का विकास होगा या नहीं. या फिर इस तरह की धारणा सिर्फ मिथक है? मेरी सलाह है कि इस विषय की विस्तृत जानकारी के लिए इस आलेख को पढ़ें.

बच्चे का सिर मुंडवाने की सही उम्र – Bachche Ka Mundan

आप भी अगर अपने बच्चे का सिर मुंडवाना चाह रहे हैं तो मेरी मानिए आप बच्चे के सिर को कठोर और मजबूत होने तक इंतजार कर लीजिए. शुरु के कुछ महीनों में शिशुओं का सिर स्थिर नहीं होता है. उनका सिर लगातार हिलता-डुलता रहता है. ऐसे में मुंडन कराते वक्त बच्चे को चोट लगने की संभावना बढ़ जाती है. कई संस्कृतियों में बच्चे का मुंडन सातवें महीने में किया जाता है. वहीं किसी-किसी में बच्चे के तीसरे-चौथे वर्ष के अंदर मुंडन का रिवाज है.

क्या मुंडन करवाने से बच्चे के बाल घने होते हैं?Bachche Ka Mundan

विशेषज्ञों कि मानें तो मुंडन से बच्चे के बालों के विकास पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है. इस वैज्ञानिक तथ्य के माध्यम से आप इसे बेहतर तरीके से समझ सकते हैं. तथ्य के मुताबिक बाल, बालों के रोमों से निकलते हैं और यह त्वचा के नीचे मौजूद होते हैं. बच्चे के बाल हटाने पर यह रोमछिद्रों को प्रभावित नहीं करते हैं.

चूंकि यह रोमछिद्रों को प्रभावित नहीं करता है इसलिए यह बालों के विकास को भी प्रभावित नहीं करता है. सच्चाई है कि चार महीने की उम्र के बाद आपके बच्चे के बाल बेहतर ढ़ंग से बढ़ते हैं. आपके बच्चे या फिर किसी भी बच्चे के बालों की बनावट और घनत्व प्रमुख रूप से जीन पर ही निर्भर करता है. यानी अगर आपके बाल खूबसूरत और चमकदार हैं तो निश्चित ही आपके बच्चे का बाल भी वैसा हो होगा.

बच्चे के मुंडन की भारतीय परंपरा – Bachche Ka Mundan

एक नहीं बल्कि कई देशों में बच्चे के सिर मुंडवाने की पुरानी परंपरा है, जिसका लोग पालन भी करते हैं. विभिन्न संस्कृतियों और नस्लों में बच्चे के जन्म के कुछ वर्षों के अंदर ही उसका मुंडन करवाते हैं. भारतीय संस्कृति और परंपरा में यह बहुत प्रथा बहुत ज्यादा प्रचलित है. भारतीय संस्कृति में बच्चे का मुंडन करवाना शुभ माना जाता है.

जबकि कई संस्कृतियों में यह सुंदरता का संकेत है. साथ ही यह मजबूत और स्वस्थ बालों के विकास में सहायता भी करता है लेकिन इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. हालांकि मुंडन के बाद बालों की वृद्धि एक जैसी होती है, जिससे बाल समान और स्वस्थ रूप में निकलते हैं.

मुंडन से जुड़ी कुछ युक्तियां – Mundan Sanskar

1. सबसे पहले तो बच्चे का मुंडन कराते वक्त उसकी मनोदशा देख लें. क्योंकि इस समय शिशु का शांत और खुश होना जरूरी है. इनका मुंडन दिन के समय कराना बेहतर होगा क्योंकि दिन के वक्त बच्चे में चिड़चिड़ापन कम होती है.

2. आपका शिशु अगर बहुत छोटा है और अभी वह बैठ नहीं पाता है तो उसे अपनी गोद में आराम से लिटा लें. अगर बच्चा बैठने लायक है तो उसे एक आरामदायक जगह पर बैठाएं.

3. आप बच्चे का ध्यान भटकाने के लिए उसके सामने पसंदीदा खिलौने रख दें. बच्चे को शांत रखने के लिए आप उसके सामने गाना गाते रहें या उससे बातें करते रहें.

4. बच्चे का बाल अगर बहुत ज्यादा लंबा है तो पहले उसके बाल छोटे करवाकर मुंडन करवाना ठीक रहेगा.

5. शिशु के सिर पर सौम्य शैम्पू लगाने से उसके बाल आसानी से और तेजी से कटेंगे.

6. अपने बच्चे का बाल उस्तरे से कटवाते समय विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है. क्यूंकि इसमें खरोंच का खतरा रहता है. इसलिए ट्रिमर का इस्तेमाल करना ज्यादा अच्छा विकल्प है. क्यूंकि इसमें सिर कटने का जोखिम कम है.

7. मुंडन के वक्त बच्चे के चेहरे पर गिरने वाले बालों को साफ करते रहें. क्यूंकि इन बालों से बच्चे के चेहरे में खुजली या जलन की संभावना रहती है.

8. सिर मुंडवाने के बाल शरीर पर लगे बाल अच्छे से निकल जाए, इसके लिए बच्चे को हल्के गर्म पानी से नहलाना बेहतर उपाय है.

मुंडन के बाद बच्चे के सिर पर क्या लगाएं – Bachche Ka Mundan

गुनगुने पानी से बच्चे को नहलाने के बाद खुजली और रूखेपन से बचाव के लिए आप किसी भी अच्छे तेल या मॉइस्चराइजर बच्चे के सिर में लगा सकते हैं.

क्या ‘क्रैडल कैप’ में बच्चे का मुंडन करवाना ठीक है?

‘क्रैडल कैप’ एक सूखी और मृत त्वचा, जो बच्चे के सिर में मौजूद हो सकती है. कई माता-पिता यह सोचते हैं कि मुंडन करवा देने से यह हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा. लेकिन हमेशा ऐसा नहीं होता है. ‘क्रैडल कैप’ से छुटकारा पाने के लिए प्राकृतिक तेलों और औषधि युक्त शैंपू का इस्तेमाल करना ज्यादा ठीक होता है.

अगर आप अपने बच्चे का मुंडन करवाने पर विचार कर रहे हैं तो, एक बार बच्चे के डॉक्टर से परामर्श लेना ठीक रहेगा.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here