Home Reviews बैटरी सेविंग टिप्स आजमाकर लैपटॉप की बैटरी को डिस्चार्ज होने से बचाएं...

बैटरी सेविंग टिप्स आजमाकर लैपटॉप की बैटरी को डिस्चार्ज होने से बचाएं – Battery Saving Easy Tips

आपके लैपटॉप की बैटरी भी जरूरी वक्त पर धोखा देता है? चलिए जानते हैं लैपटॉप की बैटरी को लंबे समय तक चलाने के टिप्स. (Battery Saving Easy Tips)

आप कभी किसी मीटिंग में हो या किसी कान्फ्रेंस में, सबसे पहले आपको एक आउटलेट की तलाश होती है, ताकि आप अपने लैपटॉप (Battery Saving Easy Tips) को जब चाहे चार्ज कर सकें. लेकिन जब आपके पास कोई विकल्प नहीं होता है तो आपकी चिंता बढ़ जाती है. आप इस सोच में पड़ जाते हैं कि लैपटॉप की बैटरी अब और कितनी देर चलेगी?  

Battery Saving Easy Tips

कई बार ऐसा देखा जाता है कि हमारी छोटी-छोटी गलतियां लैपटॉप की बैटरी की लाइफ कम कर देती है. ऐसे में जब लैपटॉप को अधिक देर तक बिना चार्ज किए ऑन रखने की जरूरत पड़ती है तो ये धोखा दे देते हैं यानी यह अधिक देर तक नहीं चल पाता.  

आइए यहां जानते हैं कि आप कैसे अपने लैपटॉप की बैटरी को अधिक समय तक चार्ज रख सकते हैं और साथ ही बैटरी की लाइफ भी बढ़ा सकते हैं.

लैपटॉप की बैटरी पूरी तरह डिस्चार्ज होने से पहले ही रिचार्ज करें – Battery Saving Easy Tips

यदि आप चाहते हैं कि आपके लैपटॉप की बैटरी लंबे समय तक चले तो इसे पूरी तरह बंद होने से पहले ही चार्ज करना चाहिए. लिथियम पॉलीमर या लिथियम आयन से बनी अधिकांश बैटरियों को सक्रिय प्रवृत्ति की जरूरत नहीं होती है, फिर भी उनके पास एक सीमित समय होता है. यह एक निर्दिष्ट संख्या में चार्ज चक्रों का समर्थन करता है- और वे जितनी जल्दी हो उतनी जल्दी बाहर निकल जाते हैं.

एक चार्ज चक्र पूर्ण 100-से-0-प्रतिशत निर्वहन का प्रतिनिधित्व करता है. इसके बाद इसका रिचार्ज 100 फीसद पर वापस आ जाता है. 50 फीसद तक और वापस 100 फीसद तक का निर्वहन आधा चक्र के बराबर होता है. आपके लैपटॉप के संपूर्ण जीवनकाल में प्रत्येक चार्ज चक्र बैटरी की क्षमता को कम करता है. इसलिए आप बैटरी को जितना कम शून्य पर जानें देंगे ये उतनी ही देर तक चलेगी.

इसे भी पढ़ें: ऑनलाइन लर्निंग लेने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

हाइबरनेट मोड का करें प्रयोग

विंडोज पर हाइबरनेट मोड और स्टेप के बीच अंतर होता है. अगर आप अपने कंप्यूटर को कुछ मिनटों के बजाय कुछ घंटों के लिए छोड़ रहे हैं, तो बैटरी Battery Saving Easy Tips) की लाइफ बचाने के लिए हाइबरनेट बंद करना अच्छा रहता है. स्लीप मोड में  बैटरी संसाधन रैम को शक्ति प्रदान करते हैं. काम के लिए सिस्टम को मेमोरी में लोड करते हैं. इसमें सेटिंग, एप्लिकेशन और खुले डॉक्युमेंट्स को सुरक्षित करने जैसा काम होता है. जबकि हाइबरनेट वर्तमान डाटा को डिस्क पर सहेजते समय सिस्टम को बंद कर देता है. आप चाहे तो हाइबरनेशन में सिस्टम को पावर भी काट सकते हैं क्योंकि जब आप रीबूट करते हैं, तो यह डिस्क से डेटा पढ़ कर इसे रैम में भेजता है. विंडोज 10 एक विशिष्ट और प्रत्यक्ष हाइबरनेट मोड प्रदान करता है. अगर आप अपने लैपटॉप की बैटरी को बचाना चाहते हैं तो यह सबसे अच्छा विकल्प है.

बैटरी सेवर मोड ऑन करें

अगर आपको कभी भी लगता है कि लैपटॉप की बैटरी लंबे समय तक चलानी है तो बैटरी सेवर मोड ऑन करना एक अच्छा विकल्प है. इस मोड के ऑन होते ही आपका विंडोज लैपटॉप (Battery Saving Easy Tips) ईमेल और कैलेंडर सिंक, वर्तमान में उपयोग में नहीं आने वाले ऐप्स और अन्य प्रक्रियाओं को खुद ही बंद कर देता है. आप स्वचालित स्लाइड का उपयोग यह जानने के लिए कर सकते हैं कि मशीन चालू होने से पहले आप कितना कम चार्ज करना चाहते हैं. बैटरी सेवर मोड ऑन करने के लिए कण्ट्रोल पैनल में सेटिंग्स के अंतर्गत स्टार्ट बटन में पहुंचकर बैटरी सेविंग मोड को ऑन करें. यह मोड आपकी बैटरी को लंबे समय तक चार्ज रखने में मदद करेगा.

अपने लैपटॉप को ठंडा रखें

लिथियम-आयन बैटरी गर्मी को बर्दाश्त नहीं कर पाती है. 86 डिग्री फारेनहाइट से ऊपर की किसी भी चीज को ऊंचा तापमान की श्रेणी में माना जाता है. यह तापमान इसे जल्द ही समाप्त कर सकता है. यदि लैपटॉप को गर्म स्थान की जगह ठंडे स्थान पर रखा जाता है तो यह लंबे समय तक चल सकता है.

इन बातों का रखें ध्यान- Battery Saving Easy Tips

  • अपने लैपटॉप की बैटरी की लाइफ बढ़ाने के लिए कुछ आसान काम कर सकते हैं, जैसे-  
  • हार्ड ड्राइव, वेबकैम, या बैटरी पावर का उपयोग करके कुछ भी अनप्लग करें.
  • बैटरी सेवर मोड ऑन करें
  • यह सुनिश्चित करें कि आपके पास पर्याप्त RAM है.
  • स्क्रीन का रिजॉल्यूशन कम करें.
  • कनेक्शन की आवश्यकता न होने पर वाईफाई और ब्लूटूथ बंद कर दें.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here