Home Health Care Benefits of Blueberries in Hindi: ब्लूबेरी के फायदे और नुकसान

Benefits of Blueberries in Hindi: ब्लूबेरी के फायदे और नुकसान

गुणकारी ब्लूबेरी जिसे नीलबदरी भी कहा जाता है. यह फल जितना आकर्षक दिखता है उतना ही गुणकारी भी है. (Benefits of Blueberries in Hindi)

प्रकृति से हमें कई किस्म के फल (Benefits of Blueberries in Hindi), सब्जियां और जड़ी-बूटियों का वरदान मिला है. इनमें पाए जाने वाले औषधीय गुण हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है. कोई फल आपका वजन बढ़ाने में, तो कोई वजन कम करने में मदद करता है. वहीं किसी फल में एंटीकैंसर गुण होते हैं, तो किसी में शुगर को कंट्रोल करने की क्षमता होती है. यहां हम एक ऐसे फल के बारे में बात करेंगे जो न सिर्फ स्वाद में भरपूर है, बल्कि इसमें मौजूद औषधीय गुण हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है.

Benefits of Blueberries in Hindi

जी हां हम बात कर रहे हैं गुणकारी ब्लूबेरी की, जिसे नीलबदरी भी कहा जाता है. नीले रंग का यह फल आकार में गोल और छोटा होता है. स्वाद में यह फल खट्टा मीठा होता है. यह फल मुख्य रूप से उत्तरी गोलार्ध में पाई जाती है. यह फल जितना आकर्षक दिखता है उतना ही गुणकारी भी है. आइए इससे होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं.

ब्लूबेरी के प्रकारBenefits of Blueberries in Hindi

1. लो बुश या कम बुश ब्लूबेरी – ब्लूबेरी की छोटी प्रजाति होती है.

2. उत्तरी

3. दक्षिणी

4. रैबिट ऑय

5. हाफ हाई या उच्च बुश ब्लूबेरी – यह ब्लूबेरी की बड़ी प्रजाति होती है.

इसे भी पढ़ें: पालक खाने के फायदे व नुकसान

ब्लूबेरी से होने वाले फायदे

1. आजकल मोटापा तो आम समस्या बन चुकी है. मोटापा के मरीज तो आपको लगभग घरों में मिल जाएंगे. आप भी अगर मोटापे की समस्या से परेशान है तो इस मुसीबत से छुटकारा पाने के लिए ब्लूबेरी का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. इसमें एन्थोसायनिन नामक यौगिक पाया जाता है. यह यौगिक बढ़ते हुए वजन को नियंत्रित करने के साथ-साथ वजन को कम करने में भी आपकी मदद कर सकता है.

2. हृदय की समस्या से निजात पाने के लिए तो ब्लूबेरी मानों प्राकृतिक विकल्प साबित हो सकता है. इस फल को पॉलीफेनॉल्स का अच्छा स्रोत माना गया है और पॉलीफेनॉल्स आपकी हृदय संबंधी समस्या से सुरक्षा कर सकते हैं. साथ ही इसमें एंथोसायनिन और फाइबर जैसे अन्य पोषक तत्व भी मिलते हैं, जो कोलेस्ट्रोल, लिपिड और ग्लूकोज के स्तर में सुधार करने में सक्षम होते हैं. इन तीनों के स्तर में गड़बड़ी होने पर हृदय रोग की समस्या शुरू हो सकती है.

3. नेत्र संबंधी समस्या समाधान के लिए भी ब्लूबेरी (Benefits of Blueberries in Hindi) का सेवन किया जा सकता है. इससे आंखों की कई सारी बीमारियां दूर हो सकती है. इसमें पाया जाने वाला एंथोसायनिन एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है. ब्लूबेरी में पाए जाने वाले इस एंथोसायनिन यौगिक से मैक्यूलर डिजनरेशन के खतरे को कम किया जा सकता है.

ब्लूबेरी के फायदे

4. यह कैंसर से बचाव में भी कारगर साबित हो सकता है. विशेषज्ञों का मानना है कि ब्लूबेरी कैंसर जैसी बीमारियों को कुछ हद तक ठीक करने में सक्षम है. इसमें टेरोस्टिलबिन नामक घटक पाया जाता है और इस घटक को कई बीमारियों को ठीक करने के लिए औषधि के रूप में उपयोग किया जाता है. ब्लूबेरी में पाया जाने वाला यह टेरोस्टिलबिन कई प्रकार के कैंसर को दूर कर सकता है. जिसमें स्तन कैंसर का उपचार भी शामिल है.

5. अच्छी पाचन क्षमता कई रोगों की दवा होती है. ब्लूबेरी का जूस व्यक्ति की पाचन क्षमता में सुधार ला सकता है. इसमें फाइबर की भी कुछ मात्रा पाई जाती है और फाइबर आपकी पाचन क्षमता को दुरुस्त करने का काम कर सकता है. यह कब्ज जैसी समस्याओं के साथ-साथ दस्त और अपच की परेशानी को भी दूर करता है. यानि यह पाचन संबंधी समस्या का अच्छा समाधान हो सकता है.

ब्लूबेरी से होने वाले नुकसानBenefits of Blueberries in Hindi

  • खून संबंधी समस्याओं के मरीज को ब्लूबेरी से दूरी बनाए रखना चाहिए. क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन K में पाए जाने वाले कन्टेन्ट रक्त को पतला करते है.
  • इस फल का सेवन करने से कुछ लोगो को एलर्जी की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है, जैसे खुजली, सुजन और सांस लेने में कठिनाई आदि.
  • ब्लूबेरी में सेलिसिलेट्स की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। जिन लोगों को सेलिसिलेट्स से एलर्जी होती है, वे इसे सहन नही कर पाते है. ऐसे लोगों को उल्टी, कब्ज, दस्त, गैस, सिर दर्द की समस्या हो सकती है.
  • इसमें फाइबर की मात्रा बहुत ज्यादा रहती है. ब्लूबेरी का अतिरिक्त सेवन करने से पेट में बेचैनी, सूजन, दस्त की समस्या, पेट का फुलना जैसी समस्या पैदा हो सकती है. यह आंतो से पोषक तत्वों के अवशोषण में बाधा स्थापित कर सकता है. इसके अलावा भी कई स्वास्थ संबंधी समस्याओं को जन्म दे सकता है. क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है इसलिए इसका अधिक सेवन ना करने की सलाह दी जाती है.

ब्लूबेरी के नुकसान

  • विटामिन K की मात्रा इसमें भरपूर होती है. एक कप ब्लूबेरी में 29 माइक्रोग्राम विटामिन की मात्रा होती है. यह हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है, रक्त को नियंत्रित करता है, कैंसर के खतरे को कम करता है परन्तु इसकी अधिक मात्रा से सांस की तकलीफ, आतंरिक रक्तस्त्राव समेत और भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.
  • गर्भवती महिलाओ के लिए ब्लूबेरी (Benefits of Blueberries in Hindi) एक अच्छा आहार है लेकिन इसका अधिक सेवन करना हानिकारक हो सकता है. इसमें कई ऐसे योगिक होते हैं जो गर्भवती स्त्री लिए बेहद फायदेमंद साबित होते हैं लेकिन ध्यान रहे कि इसे सेवन करने से पूर्व डाक्टर से परामर्श लेने की सलाह दी जाती है. गर्भवती महिला द्वारा सेवन किया गया खाद्य पदार्थ उसके शिशु पर असर डालता है इसलिए डॉक्टर की सलाह ले कर ही कोई भी आहार लेना चाहिए.
  • कोई भी फल प्रक्रति के द्वारा मनुष्य को दिया हुआ एक उपहार है. तमाम फल ही गुणों का खजाना होते हैं अर्थात इसमें कई चमत्कारी गुण पाये जाते हैं जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद साबित होते हैं. इसलिए जरूरी है कि अधिक से अधिक पेड़ पोधे लगाकर प्रकृति की रक्षा करनी चाहिए.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here