Home Health Care Covid-19 Vaccine in hindi: कोविड-19 के पहले वैक्सीन की कोई तय समय...

Covid-19 Vaccine in hindi: कोविड-19 के पहले वैक्सीन की कोई तय समय सीमा नहीं

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री द्वारा कोरोना वायरस की वैक्सीन लॉन्च की निर्धारित समय सीमा जाहीर नहीं की गई है. (Covid-19 Vaccine in hindi)

भारत में कोराना वायरस का संक्रमण (Covid-19 Vaccine in hindi) दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है. इंडिया में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 9 लाख से भी ज्यादा हो गई है. पूरे देश में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 23 हजार हो चुकी है. तेजी से फैल रहे कोराना वायरस से ना सिर्फ भारत बल्कि पूरा विश्व दहशत में है. विशेषज्ञ इस बात को लेकर चिंतित हैं कि भारत में कोरोना वायरस शायद सामुदायिक स्तर पर पहुंच चुका है.

Covid-19 Vaccine in hindi

क्या है सामुदायिक प्रसारCovid-19 Vaccine in hindi

सामुदायिक प्रसार में संक्रमण स्थानीय स्तर पर संक्रमित हुए व्यक्ति से अन्य व्यक्ति में या फिर एक वस्तु से किसी इंसान में श्रृंखलाबद्ध तरीके से तेजी से फैलता है. इसमें समस्या यह होती है कि संक्रमित (Covid-19 Vaccine in hindi) होने वाले व्यक्ति को संक्रमण के स्त्रोत की जानकारी ही नहीं होती है. कोविड-19 फैलने के इस स्टेड को तीसरा स्टेड कहा जाता है. चूकि स्त्रोत की जानकारी नहीं होती है इसलिए इसकी पहचान कर पाना असंभव हो जाता है.

भारत में नहीं है सामुदायिक प्रसार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि भारत में किसी प्रकार का कोई सामुदायिक प्रसार नहीं है. इसकी जानकारी उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में दी है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भले ही धारावी और मुंबई जैसी जगहों पर कोरोना का संक्रमण स्थानीय रूप में फैल रहा है. हालांकि वक्त रहते उचित कार्रवाई एवं प्रबंधन करके कोविड-19 को बहुत ही जल्दी नियंत्रित किया गया है.

इसे भी पढ़ें: बच्चे और व्यस्कों में पीलिया के कारण, लक्षण व उपचार

अच्छा संकेत है भारत का रिकवरी रेट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने अपने बयान में यह भी कहा कि हमारे देश का रिकवरी रेट बहुत ही बेहतर है. और यह एक अच्छा संकेत है. भारत का रिकवरी रेट अभी 60 फीसद के करीब है. इसलिए इसे अच्छा संकेत माना जा रहा है. देश में व्यापक रूप में परीक्षण और बेहतर प्रबंधन के परिणामस्वरूप दुनिया भर में सबसे कम मृत्यु दर यहीं दर्ज की गई है.

कोविड-19 के पहले वैक्सीन के आने का समय तय नहींCovid-19 Vaccine in hindi

मंत्री हर्षवर्द्धन ने मीडिया से कहा कि कोविड-19 की पहली वैक्सिन कम तक आएगी इसका अब तक कोई अंदाजा नहीं है. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद द्वारा विवादास्पद बयान पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि वैक्सिन के निर्माण की अभी तक कोई समय सीमा निर्धारित नहीं है. वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों को तेजी से ट्रैक करने की अधिसूचना की सही व्याख्या नहीं हुई है.

‘कोवानिक्स’ के लिए समय सीमा नहीं

ज्ञात हो कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद द्वारा 15 अगस्त 2020 तक एक स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन कोवानिक्स (Covid-19 Vaccine in hindi) को लॉन्च करने की तारीख प्रकाश करने के बाद काफी सुर्खियां बटोरी थी. इसके बाद चिकित्सा संगठन की काफी आलोचना भी हुई थी. कोरोना वायरस की वैक्सीन लॉन्च की निर्धारित समय सीमा को लेकर भी आशंका जाहीर की गई थी. लेकिन भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने बाद में स्पष्ट किया था कि उन्होंने अब तक कोवानिक्स के लिए कोई तय समय सीमा निर्धारित नहीं की है. परिषद जल्द से जल्द क्लिनिकल ट्रायल को पूरा करने की कोशिश में लगा है.

कोराना संक्रमण के कितने स्टेज हैं?

केंद्र सरकार और स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा हमेशा कोरोना के विभिन्न चरणों की बात की जाती है. ऐसे में आपके मन में भी सवाल उठ रहा होगा कि इसके कुल कितने चरण होते हैं? कौन सा चरण खतरनाक है?

कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 4 चरण हैं

पहला चरण – पहले चरण में संक्रमण सिर्फ उन्हीं लोगों में फैलता है, जो लोग किसी भी वायरस से प्रभावित देशों से आते हैं.

दूसरा चरण – दूसरे चरण को लेकल ट्रांसमिशन स्टेज कहते हैं. इस चरण में विदेश से लौटे सख्स के परिजन, रिश्तेदार या फिर साथी संक्रमित होते हैं. इस स्टेज में वायरस के फैलने की स्त्रोत पता होता है. स्त्रोत पता होने पर इसकी रोकथाम करना बहुत आसान होता है.

तीसरा चरण – तीसरे चरण को कम्यूनिटी ट्रांसमिशन स्टेज कहते हैं. इस चरण में ऐसे लोग संक्रमित होते हैं जो ना तो किसी देश से लौटे हैं और ना ही ऐसे किसी व्यक्ति के संपर्क में ही होते हैं. इसमें पता करना मुश्किल हो जाता है कि संक्रमण आया कहां से है. इसी कारण इस स्टेज में रोकथाम करना बहुत मुश्किल हो जाता है.

चौथा चरण – यह चरण किसी भी महामारी का अंतिम पड़ाव होता है. इस स्टेज में समस्या का समाधान निकालना बहुत कठिन हो जाता है. इस चरण में संक्रमण इतनी तेजी से फैलता है कि इसका रोकना मुश्किल होता है.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here