Home Health Care युवक की कटी अंगुलियां जोड़कर डॉक्टर ने पेश की मिसाल

युवक की कटी अंगुलियां जोड़कर डॉक्टर ने पेश की मिसाल

कारखाने में काम के दौरान युवक की दो अंगुलियां कट गई. इन अंगुलियों को जोड़कर आरजी कर अस्पताल के चिकित्सकों ने मिसाल पेश की है. Doctors added cut fingers

कारखाने में काम के दौरान युवक के हाथ को दो अंगुलियां कट (Doctors added cut fingers) गई. इन कटी अंगुलियों को जोड़कर आरजी कर अस्पताल के डॉक्टरों ने मिसाल कायम की है. क्योंकि जोड़ी गई अंगुलियां पिर से हरकत करने लगी है. जोड़ी गई अंगुलियां घटना पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के बेलघरिया नवादापाड़ा स्थित एक कारखाने की है.

cut finger operation

गत शनिवार काम के दौरान अभिजीत बाग नामक एक कर्मचारी का बायां हाथ मशीन में घुस गया और उसकी दो अंगुलियां कट कर (Doctors added cut fingers) अलग हो गई. कटी अंगुली देख अभिजीत के सहकर्मियों के तो होश उड़ गए लेकिन अभिजीत पर इसका जरा भी प्रभाव नहीं पड़ा.

वह बगैर घबराए एकदम शांत रहा और उसने तुरंत ही अपनी दोनों कटी अंगुलियों को लेकर प्लास्टिक के पैकेट में भर लिया. उसने समय नष्ट किए बगैर तुरंत ही सागर दत्ता मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचा. डॉक्टर ने उसे फौरन ही कोलकाता के आरजी कर अस्पताल के प्लास्टिक सर्जरी विभाग में स्थानांतरित किया.

मुश्किल था अंगुलियों को जोड़ना-Doctors added cut fingers

फिर अभिजीत को ट्रॉमा केयर सेंटर में भेजा गया. वहां जाते ही पहले सर्जन डॉक्टर रुप नारायण ने मरीज की कटी अंगुलियों व उसके हाथ ही जांच की. कटने के साथ ही अंगुलियां बुरी तरह कुचल भी गई थी. इस तरह क्षतिग्रस्त अंगुलियों (Doctors added cut fingers) को जोड़ना मुश्किल काम था लेकिन डॉक्टरों ने हार नहीं मानी. और तुरंत ही ऑपरेशन की प्रक्रिया शुरू की गई.

इस जटिल ऑपरेशन के लिए सबसे पहले एक टीम गठित की गई. इस टीम में डॉक्टर रुप नारायण भट्टाचार्य के साथ डॉक्टर गौरांग दत्त, डॉक्टर गुंजन बंद्योपाध्याय व अन्य को भी शामिल किया. अंगुलियां धूल-कंकड़ में लिपटी होने की वजह से इसे जोड़ने में चिकित्सकों को कठिनाई भी हुई. लेकिन यह ऑपरेशन पूरी तरह सफल रहा.

इसे भी पढ़ें: नवजात के हाथों में थी 6-6 अंगुलियां, दाई ने एक-एक काट दी

ऑपरेशन के बाद अभिजीत की अंगुलियां फिर से हरकत भी करने लगी. हालांकि इस बारे में डॉक्टर रूप नारायण भट्टाचार्य ने कहा कि अभिजीत कटी अंगुलियों को सामान्य प्लास्टिक में लेकर आया था. लेकिन उसे अंगुलियों को बर्फ रखकर लाना चाहिए था. याद रहे अगर थोड़ी सावधानी बरती जाती है तो कटे अंग को फिर से जोड़ा जा सकता है.

इन बातों का रखें ध्यान–Doctors added cut fingers

अगर किसी के शरीर का कोई अंग कट जाए तो सबसे पहले उसे इंफेक्शन से बचाना जरूरी होता है. अगर जल्दबाजी में आपके पास कोई कोई उपाय ना हो तो फिर ऐसे में आप उस अंग को साफ पानी से धो लें. उसे पॉलीथीन के अंदर रखकर पॉलीथीन को बर्फ से ढ़क दें ताकि अंग सड़ने से बचे.

cut finger operation

कोई भी अंग अगर साफ चीज से कटती (Doctors added cut fingers) है, जिसमें एक किनारे को दूसरे किनारे से जोड़ा जा सके. जैसे मशीन, तलवार, या हसिया तो उस अंग को जोड़ने की कोशिश की जा सकती है. लेकिन वाहन, या ट्रेन की चपेट में आने वाले अंगों को जोड़ना नामुमकिन है.

अंगुली जोड़ने की संभावना कम–Doctors added cut fingers

अंगुलियों के कटने पर (Doctors added cut fingers) उसके जुड़ने की संभावना कम रहती है. इसकी वजह है कि अंगुली की नसें इतनी महीन होती है कि उन्हें माइक्रो सर्जरी से जोड़ने में कठिनाई आती है. यानी ऐसे मामले में सफलता मिलना बहुत बड़ी बात है.

8 घंटे तक सुरक्षित रहते हैं कटे अंग-Doctors added cut fingers

कटे हुए अंगों को लेकर जल्द से जल्द डॉक्टर के पास लेकर जाएं. कटे अंग 8 घंटे तक सही रहते हैं. उससे ज्यादा देर होने पर अंग खराब हो जाते हैं. #CutFingers

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here