Home Health Care जानें पेशाब में जलन के कारण और इसके उपाय

जानें पेशाब में जलन के कारण और इसके उपाय

पेशाब में लगातार होने वाली जलन बीमारी का रूप ले लेती है. लिहाजा इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है. यहां हम पेशाब के जलन के कारणों पर प्रकाश डालेंगे. Causes and measures for urination

आमतौर पर पेशाब में जलन की समस्या से हर किसी को दो-चार होना पड़ता है. हम सभी को कभी ना कभी इसका अनुभव हुआ है. लेकिन अगर ये बार-बार हो तो एक परेशानी का सबब बन जाता है. इतना ही नहीं, पेशाब में लगातार होने वाली जलन बीमारी का रूप ले लेती है. लिहाजा इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है. यहां हम पेशाब के जलन के कारणों और उपायों (dysuria remedies) पर प्रकाश डालेंगे. ज़रा सा ध्यान दें तो आप इस परेशानी से मुक्त रह सकते हैं.

dysuria remedies in hindi

हम व्यस्तताओं के बीच कई बार या यूं कहें कि बार-बार पेशाब रोककर रखते हैं. इससे ही परेशानी की शुरुआत होती है. एक और महत्वपूर्ण बात ये है कि हम पानी पीने में भी कंजूसी कर देते हैं. जिसके चलते पेशाब में जलन की समस्या आम हो जाती है. यहां ये ध्यान देने वाली बात है कि हमें पानी सही मात्रा में लेने की जरूरत है, साथ ही समय-समय पर पेशाब करते रहना भी जरूरी है. पेशाब को दबाने की आदत कई परेशानी को दावत दे सकती है. 

हम आज के फास्ट समय में फास्ट फूड पर निर्भर होते जा रहे हैं. लिहाजा तले-भुने, जायकेदार मसाले वाले भोजन से न केवल पेट की समस्या शुरू हो जाती बल्कि पेशाब में भी परेशानी होती है. ऐसा देखा जाता है कि जलन अपने आप भी ठीक हो जाती है. कई बार पेशाब में जलन किसी बीमारी का संकेत के रूप में आती है. लिहाजा इसे नजरअंदाज करने की कोताही ना कर डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.

यहां जानते हैं कि किन हेल्थ कारणों से पेशाब में जलन की समस्या हो सकती है:

1. यूटीआई इंफेक्शन

यूटीआई यानि यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन के कारण पेशाब में जलन की समस्या हो जाती है. ऐसे में पेशाब के रास्ते में जलन, चुभन के साथ ही दर्द भी महसूस होता है. ये इंफेक्शन कभी-कभी बेहद सामान्य भी होता है. लेकिन इसे बेहद गंभीरता से लेकर डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत होती है. ताकि समय रहते उचित इलाज हो सके. इंफेक्शन बढ़ने से कई रोग हो सकते हैं.

2. किडनी में स्टोन

जिस प्रकार खाने-पीने वाली चीजें मिलावटों से भरी हुई हैं, किडनी में स्टोन की समस्या आम होती जा रही है. किडनी में स्टोन होने की स्थिति में ऐसा जान पड़ता है कि पेशाब में दर्द है. ऐसे में हल्का दर्द के साथ पेशाब होता है. स्टोन होने से कम मात्रा में पेशाब का आने, पेशाब धीरे-धीरे होने की समस्या रहती है.

3. क्लैमाइडिया

ये समस्या खासतौर पर महिलाओं को होती है. क्लैमाइडिया यौन संचारित रोग यानि एसटीडी है जो कि क्लैमाइडिया ट्राकोमोटिस जीवाणु की वजह से होता है. ये जीवाणु महिलाओं की प्रजनन अंगों को डैमेज करते हैं जिससे पेशाब में जलन और दर्द हो सकती है. इसे नजरअंदाज ना करते हुए पूरा ध्यान रखें. सम्बन्ध बनाते समय सजग रहें, साथ ही साफ-सफाई रखें.

जरूर पढ़ें: दादी मां के 11 घरेलू रामबाण नुस्खे!

4. ब्लैडर कैंसर

अगर पेशाब करते हुए दर्द और जलन हो रहा है तो इसका कारण ब्लैडर कैंसर भी हो सकता है. ब्लैडर के सहारे ही हमारे शरीर से पेशाब बाहर निकलता है. इसमें समस्या आने पर पेशाब करने में कठिनाई आती है. जानकारी हो कि ब्लैडर के अंदर एक झिल्ली होती है और जब इसका आकर अनियमित हो जाता है तो पेशाब में समस्या आने लगती है.

5. पेशाब नली में सूजन

इस समस्या को यूथेराइटिस भी कहा जाता है जिसमें पेशाब की नली में सूजन हो जाती है. इसकी वजह से पेशाब करते समय भीषण दर्द देखा जाता है. कभी-कभी वयस्कों को इस समस्या में खून या धातु भी निकलने लगता है. जाहिर है, समस्या होने पर डॉक्टर से जरूर परामर्श लेनी चाहिए.

इसके अलावे बढ़ी हुई प्रोस्टेट, अल्सर, डायबिटीज आदि बीमारियों की वजह से भी पेशाब में जलन और दर्द के लक्षण देखे जाते हैं. पेशाब की समस्याओं में दर्द, जलन, पीलापन, बदबू आदि गिने जाते हैं.

एक्सपर्ट की मानें तो महिलाओं को पेशाब करने में 20 से 30 सेकेंड और पुरुषों को 40 से 50 सेकेंड का समय लगता है. अगर आपको इससे ज्यादा समय लगता है तो इसका मतलब है कहीं कोई दिक्कत है. बताते चलें कि अगर आपको पेशाब करने में अधिक समय लगता है तो ये समस्या की शुरुआत है. ये कोई सामान्य लक्षण नहीं है इसलिए पानी पीने पर ख़ासा ध्यान दें. अगर आप पर्याप्त पानी पीते हैं और फिर भी समस्या बनी हुई है तो यूरोलॉजिस्ट से सलाह लेना सही होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here