Home Health Care कान में कीड़ा जाने पर अपनाएं ये कारगर उपाय!

कान में कीड़ा जाने पर अपनाएं ये कारगर उपाय!

कीड़े के कान में प्रवेश करते ही कान में तेज दर्द होना शुरू हो जाता है. कीड़ा अगर कान के अंदर मर जाता है तो उसे जल्दी से जल्दी बाहर निकालना जरूरी होता है. Effective measures if you get a worm in your ear.

आपने कई बार ऐसा सुना होगा कि सोते वक्त किसी के कान में कीड़ा घुस गया (Take out the ear worm) हो. कीड़े के कान में प्रवेश करते ही कान में तेज दर्द होना शुरू हो जाता है. कीड़ा अगर कान के अंदर मर जाता है तो उसे जल्दी से जल्दी बाहर निकालना जरूरी होता है. (effective measures if you get a worm in your ear.)

किसी के कान में कीड़ा के घुस जाने पर तेज दर्द, सुरसुराहट व खीझ महसूस होती है. यहां बताए जा रहे कुछ घरेलू नुस्खों को आजमा कर कीड़े को कान से बाहर निकाला जा सकता है. सबसे पहले तो आपको कान में कीड़े के घुसने के लक्षणों को जानना जरूरी है. तभी तो आप इसका सही उपचार कर पाएंगे.

सोते वक्त कई बार कान में कीड़ा प्रवेश कर जाने पर कान में तेज दर्द होता है. इसमें कीड़ा, मच्छर या चींटा भी शामिल है. अक्सर बच्चों के कान में सोते वक्त कीड़े घुस जाते हैं. कीड़ा कान में जाते ही तेज दर्द होना शुरू हो जाता है.

यहाँ जानिए, क्या है वो कारगर उपाय जिनसे कीड़े कान से बाहर आ जाएंगे:

1. कीड़ा को खुद बाहर आने दें – Worm in ear

जब आपको लगे कि कान मं कीड़ा घुस गया हो तो कुछ देर के लिए आप शांत बैठें. कई बाहर ऐसा करने से कीड़ा अपने आप बाहर निकल जाता है.

2. कान झुका कर झटका दें – Worm in ear

अगर आप कान में कीड़ा घुसने का महसूस करें तो इसका मतलब है कि अभी वो ज्यादा अंदर तक नहीं गया है. तो तुरंत ही आप उस कान को जिसमें कीड़ा है उसे जमीन की तरफ झुकाकर झटका दें.

या फिर दूसरे कान की तरफ थपकी मारें या कान नीचे की तरफ करके उछलें. इस उपाय से कीड़ा कान के बाहर आ जाता है. एक बात ध्यान रखें कि अगर कीड़ा कान में प्रवेश कर जाए तो उंगली या तीली से उसे निकालने का कभी भी प्रयास ना करें. ऐसे में कीड़ा कान के और अंदर तक चला जाता है.

3. गुनगुना पानी में नमक मिलाकर डालें

कीड़ा अगर कान के अंदर मर गया हो तो गुनगुना पानी में थोड़ा सा नमक डालें. उस नमक मिश्रित पानी को कान में डालें व कान को नीचे की तरफ झुकाकर झटका दें. इससे कीड़ा बाहर निकल जाएगा. पानी लेकिन ज्यादा गर्म नहीं होनी चाहिए. क्योंकि कान का पर्दा संवेदनशील होने की वजह से गर्म पानी उसे हानि पहुंचा सकता है.

4. किसी टूल को कान में न डालें

चींटी या कीड़ा के कान में घुसने पर किसी टूल को कान में बिल्कुल मत डालें क्योंकि कान में कई नर्व एंडिंग होते हैं. ऐसे में कान में अगर स्वाब या ट्वीजर्स जैसी चीजों के उपयोग से नर्व डैमेज हो सकते हैं.

जरूर पढ़ें: हवाई सफर में होता है कान दर्द? ऐसे करें उपचार!

5. कपूर का पानी – Worm in ear

कान में चींटी या कीड़ा के चले जाने पर उसे निकालने के लिए कपूर का व्यवहार करें. इसके लिए थोड़ा सा पानी लें व उसमें थोड़ा सा कपूर घोल लें.इस पानी को अब कान में डालें. फिर कान को नीचे की तरफ करके झटका दें. ऐसा करने से कान में घुसा चींटी या कीड़ा मर कर खुद ही बाहर आ जाएगा.

6. तेल डालें – Worm in ear

आपको अगर कान में कीड़ा चलता हुआ महसूस होय यानी कीड़ा जिंदा हो तो कोई भी वनस्पति तेल कान में डालें. तेल डालने से कीड़ा मर जाएगा. या फिर वह जिंदा भी खुद ही बाहर आ जाएगा. अगर आप तेल को गुनगुना करके डालते हैं तो इससे कीड़ा मर जाएगा. फिर अप कान को नीचे की तरफ करके झटका देंगे तो कीड़ा बाहर निकल जाएगा.

7. चिकित्सक से करें संपर्क

इन तमाम उपायों को करने पर भी अगर कीड़ा बाहर नहीं निकले तो फौरन चिकित्सक से संपर्क करें. क्योंकि कान में कीड़ा के ज्यादा देर तक रहने पर वह कान में इंफेक्शन का कारण भी बन सकता है.

8. कीड़े से कान में इंफेक्शन के लक्षण –

कान में तेज दर्द होना, खून निकलने की समस्या, मवाद निकलना, बदबू आने की समस्या, लगातार बुखार रहना आदि.

बता दें कि कई बार ये बहुत खतरनाक साबित होते हैं. समस्या यहां तक हो सकती है कि कीड़ा अगर कान के पर्दे तक चला जाए तो इससे पर्दे को क्षति पहुंच सकती है और इंसान को बहरा भी बना सकती है. अगर कुछ ज्यादा ही प्रॉब्लम हो तो डॉक्टर से परामर्श जरूर लें!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here