Home Education Formal Letter Format in Hindi: औपचारिक पत्र लेखन उदाहरण

Formal Letter Format in Hindi: औपचारिक पत्र लेखन उदाहरण

पत्र एक ऐसा विश्वसनीय माध्यम है जिसमें हम अपने विचारों व समस्याओं आदि को दूसरे पक्ष के समक्ष रखते हैं. (Formal Letter Format in Hindi)

पत्र एक ऐसी लिखित सामग्री है जो एक व्यक्ति, पक्ष या संगठन की तरफ से दूसरे व्यक्ति, पक्ष, या संगठन को भेजा जाता है. पत्र (Formal Letter Format in Hindi) एक ऐसा विश्वसनीय माध्यम है जिसमें हम अपने विचारों व समस्याओं आदि को दूसरे पक्ष के समक्ष रखते हैं. जैसा कि हम सभी जानते हैं कि दुनिया डिजिटल हो चुकी है जिस कारण पत्र का चलन काफी कम हो गया है लेकिन इसका महत्व अभी भी कायम है. आज भी पत्र ऑनलाइन माध्यम द्वारा या फिर हार्ड कॉपी द्वारा भेजे जाते हैं.

Formal Letter Format

पत्र लेखन दो तरह के होते हैं- Formal Letter Format in Hindi

  1. 1. औपचारिक पत्र लेखन
  2. 2. अनौपचारिक पत्र लेखन

औपचारिक पत्र

किसी व्यवसाय से जुड़े व्यक्ति को जो पत्र लिखा जाता है उसे औपचारिक पत्र कहते हैं. औपचारिक पत्र लिखने के लिए कुछ औपचारिक शब्द जैसे श्रीमान, श्रीमति और निवेदन का प्रयोग किया जाता है.

औपचारिक पत्र का प्रारूप व उदाहरण

1. प्रधानाचार्य को अवकाश के लिए औपचारिक पत्र

सेवा में,

श्रीमान प्रधानाचार्य जी,
राजकीय सह शिक्षा उच्च माध्यमिक विद्यालय,
बिनौर, कानपुर

विषय :- अवकाश के लिए आवेदन पत्र

महोदय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं आपके विद्यालय की कक्षा 8वीं ए का छात्र हूं. कल शाम से मैं तेज बुखार से पीड़ित हूं. बुखार के कारण मैं विद्यालय आने में असमर्थ हूं. डॉक्टर ने मुझे अगले 4 दिनों तक घर पर ही आराम करने की सलाह दी है. मैं अगले 4 दिनों तक विद्यालय में अनुपस्थित रहूंगा. कृपया मुझे क्षमा करें और अगले 4 दिनों का अवकाश (Formal Letter Format in Hindi) प्रदान करें. मैं आजीवन आपका आभारी रहूंगा.

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी

राहुल सिंह
कक्षा 8वीं ए
रोल नंबर 14

2. अपने बॉस को अवकाश के लिए प्रार्थना पत्र Formal Letter Format in Hindi

सेवा में,

श्रीमान् टीम लीडर सर,
डिन डॉट कॉम,
सी – 82, तीसरी मंजिल,
बिल्डिंग नंबर – 10,
विकासपुरी

विषय :- अवकाश के लिए प्रार्थना पत्र

महोदय,

सविनय निवेदन (Formal Letter Format in Hindi) यह है कि मैं आपकी डिन डॉट कॉम में आपकी टीम का कर्मचारी हूं. कल शाम से मुझे तेज बुखार था और आज ब्लड टेस्ट करने पर पता चला कि मैं डेंगू से पीड़ित हूं. श्रीमान यह मेरे लिए बहुत कठिन समय है, डेंगू कितनी घातक बीमारी है यह आप जानते हैं. पिछले साल कुल 57% लोग डेंगू से मरे थे. श्रीमान डॉक्टर ने मुझे स्वस्थ होने के लिए आराम करने की सलाह दी है.

श्रीमान मैं अगले 15 दिनों तक कार्यालय आने में असमर्थ हूं, कृपया मुझे 15 दिनों का अवकाश प्रदान करें. मेरी वजह से होने वाली असुविधा के लिए मैं क्षमाप्रार्थी हूं.

धन्यवाद,

आपका आज्ञाकारी,

नितिन सिंह,
कर्मचारी संख्या :- बी 5/69275821

इसे भी पढ़े: विश्वास से जुड़े 51 बेस्ट कोट्स

3. जल बोर्ड के अध्यक्ष को अवकाश के लिए पत्र

सेवा में,

श्रीमान जलबोर्ड अध्यक्ष अधिकारी,
दिल्ली जल बोर्ड,
मुकुंदपुर, अमृतविहार 110047

विषय :- अवकाश के लिए आवेदन पत्र

महोदय,

सविनय निवेदन यह है कि मैं आपके बोर्ड का जल चालक हूं. मुझे आज सुबह से ही सर में बहुत तेज दर्द है. ऐसी स्थिति में वाहन चलाना मेरे लिए और सड़क पर चल रहे बाकी लोगों के लिए भी गलत होगा. कृपया कर आज मुझे अवकाश प्रदान करें. मैं कल फिर से अपने कार्य पर नियमित समय पर लौट आऊंगा.

कृपया मेरे उपर यह उपकार करें, मैं सदी आपका आभारी रहूंगा.

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी

रोहित चौधरी
जल बोर्ड पश्चिमी दिल्ली

4. टीसी के लिए औपचारिक पत्रFormal Letter Format in Hindi

सेवा में,

श्रीमान प्रधानाचार्य जी,
राजकीय सह शिक्षा उच्च माध्यमिक विद्यालय,
उत्तम नगर, नई दिल्ली – 110038,

विषय :- टीसी लेने के लिए प्रार्थना पत्र

महोदय,

सविनय निवेदन करता हूं कि मैं आपके विद्यालय की कक्षा 9 के बी वर्ग का छात्र हूं. कुछ दिनों पहले ही मेरे पिताजी का ट्रान्सफर उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में हो गया है, जिस कारण हमें सपरिवार वहां स्थानांतरित होना पड़ेगा. श्रीमान अब मुझे आगे की पढ़ाई तो वहीं से करनी होगी क्यूंकि यहां मैं अकेले नहीं रह सकता. सर आप जानते है कि वहां दाखिला लेने के लिए मेरे पास टीसी (ट्रान्सफर सर्टिफिकेट) का होना अनिवार्य है. बिना टीसी के मुझे किसी भी स्कूल में एडमिशन नहीं मिलेगा.

कृपया आप मुझे टीसी देने की कृपा करें. मैं आपका सदा आभारी रहूंगा. बहुत बहुत धन्यवाद.

आपका आज्ञाकारी छात्र

उत्तम राणा
कक्षा – 9बी
रोल नंबर – 12

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here