इतिहास के साथ कैसे है गोलगप्पे का संबंध, आइए जानते हैं- Golgappa Recipe in Hindi

    भले ही आज बाजार में एक से बढ़कर एक फास्ट फूड उपलब्ध हो रहे हैं लेकिन गोलगप्पा खाने का अपना अलग ही मजा है. (Golgappa Recipe in Hindi)

    खाने-पीने की तरह-तरह की चीजों के लिए भारत विश्व प्रसिद्ध है. अब यहां गोलगप्पे (Golgappa Recipe in Hindi) को ही ले लीजिए, जिसका नाम सुनते ही लोगों के मुंह में पानी आ जाता है. गोलगप्पा सबसे पसंदीदा स्ट्रीट फूड की श्रेणी में आता है. भले आज बाजार में एक से बढ़कर एक फास्ट फूड उपलब्ध हो रहे हैं लेकिन गोलगप्पा खाने का अपना अलग ही मजा है.

    pani puri

    तभी तो लॉकडाउन के दौरान इसे बनाने की रेसिपी गुगल पर सबसे ज्यादा सर्च की गई है. क्यूंकि इस दौरान लोगों को सबसे ज्यादा गोलगप्पे की कमी ही महसूस हुई. अब धीरे-धीरे देश अनलॉक होना शुरू हो गया है, ऐसे में लोग अपना पसंदीदा स्ट्रीट फूड्स खाना भी शुरू कर देंगे. लेकिन याद रहे कि अनलॉक का मतलब ये नहीं है कि कोरोना वायरस का खात्मा हो गया है.

    इसलिए बाहर कुछ भी खाने से पहले सावधानी जरूरी है. बेहतर होगा अगर आप बाहर की किसी चीज को खाने के बजाय घर में बनी चीजें ही खाएं. जहां तक गोलगप्पे की बात है तो सच में इसे खाने का मजा तो ठेले वाले के पास खाकर ही आता है. इसका मजा तब और बढ़ जाता है, जब ठेले वाले के पास एक साथ कई लोग गोलगप्पा खा रहे हों.

    तब आपकी बारी आने में देरी होती है और आप अपनी बारी के हर गोलगप्पे (Golgappa Recipe in Hindi) का उत्सुकता से इंतजार करते हैं. जैसे ही फुचका आपकी हाथ में रखे प्लेट में आता है आपके चेहरे पर खुशी झलकने लगती है. बहुत सारे लोग तो घर पर भी टेस्टी फुचका बना लेते हैं. लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि गोलगप्पे की शुरुआत कब और कैसे हुई थी.

    तो चलिए आपके पसंदीदा गोलगप्पे से जुड़े कुछ रोचक तथ्य की जानकारी देते हैं– Golgappa Recipe in Hindi

    मगध से है गोलगप्पे का कनेक्शन

    मगध क्षेत्र यानी दक्षिणी बिहार से गोलगप्पे की शुरुआत हुई थी. सबसे पहले इसे मगध में रही बनाया गया था. गोलगप्पे को हर राज्य में अलग-अलग नामों से जाना जाता है. कहीं इसे गोलगप्पा, कहीं पानी पुरी, कहीं गुपचुप, कहीं फुचका, कहीं पकौड़ी, कहीं फुल्की तो कही पानी बताशा कहा जाता है. जिस समय इसे पहली बार बनाया गया था उस वक्त इसका नाम क्या था यह बता पाना थोड़ा मुश्किल होगा. लेकिन कहा जाता है कि प्राचीन में इसका नाम फुल्की था.

    इसे भी पढ़ें: बच्चों में ऐसे डालें हेल्दी खाने की आदत

    महाभारत के साथ भी है कनेक्शन- Golgappa Recipe in Hindi

    मान्यता है कि एक बार कुंती अपनी नई-नवेली बहु का परीक्षण करना चाहती थी. इसके लिए कुंती ने उसे थोड़ा सा आटा और आलू देकर कहा था कि इससे ऐसा कुछ बनाओ ताकि पाडवों के पेट भर जाएं. फिर द्रौपदी ने कम सामान का इस्तेमाल करके उससे पानी पूरी ही बनाया था और पांडवों के पेट भर गए थे.

    शाहजहां के साथ भी कनेक्शन- Golgappa Recipe in Hindi

    इतिहासकार बताते हैं कि सबसे पहले सत्रहवीं सदी में उत्तर भारत में मुगल बादशाह शाहजहां के समय में चाट बनाया गया था. कहते हैं कि शाहजहां ने जब अपनी राजधानी मौजूदा पुरानी दिल्ली में बसाई तो लोगों को यमुना के खारे पानी से परेशानी होने लगी. जिससे शाहजहां परेशान हो गए.

    तब जाकर हकीम साहब ने सलाह दिया कि इस परेशानी से बचने के लिए लोगों को तले हुए मसालेदार स्नैक्स का इस्तेमाल करना चाहिए. इन स्नैक्स के साथ ही दही का उपयोग भी बढ़ाना होगा. मान्यता है कि इसके बाद ही लोगों ने इस पर प्रयोग करते हुए गोल गप्पे बनाए थे.

    यहां के मजदूर जब काम की तलाश में एक शहर से दूसरे शहर जाने लगे तो उनके साथ ही ये गोलगप्पा भी सभी जगह पहुंचता गया, यानी इस रेसिपी का विस्तार होता गया. देखते ही देखते यह देश का सबसे पसंदीदा स्नैक्स बन गया. अब तो ना सिर्फ स्ट्रीट पर बल्कि इसकी लोकप्रियता को देखते हुए बड़े-बड़े रेस्टोरेंट में भी इसकी अच्छी-खासी बिक्री हो रही है.

    एसिडिटी से राहत- Golgappa Recipe in Hindi

    फुचका (Golgappa Recipe in Hindi) खाने से ना सिर्फ लाजवाब स्वाद मिलता है बल्कि इसके फायदे भी हैं. अगर आपके मुंह में छाले है तो गोलगप्पा खाने पर उसमें राहत मिलेगी. गोलगप्पे के पानी को हींग के साथ बनाने पर यह आपको एसिडिटी से राहत देगा. लेकिन इसे बहुत ज्यादा खाना सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है.

    रेसिपी- Golgappa Recipe in Hindi

    4 लोगों के लिए

    पूरी बनाने की सामग्री

    1 कप सूजी

    1 बड़ा चम्मच मैदा आटा

    1 बड़ा चम्मच तेल

    चुटकी भर नमक

    आधा चम्मच बेकिंग सोडा

    आटा गूंदने के लिए पानी

    बनाने की विधि

    • एक कटोरे में सूजी, मैदा और तेल डाल कर उसे अच्छी तरह मिला लें.
    • इसके बाद धीरे-धीरे पानी डालते हुए पेडे बनाना शुरू करें.
    • पेडे को नर्म बनाने के लिए करीब 3 मिनट तक अपने हाथों से दबाएं. इससे गोलगप्पा कुरकुरा बनेगा. पेडे को ना तो अधिक कैडे बनाएं और ना ही बहुत ज्यादा नरम ही.
    • इसे तैयार हो जाने के बाद एक कटोरी से ढ़क कर रख दें.
    • अब 5 मिनट बाद गोलगप्पा बनाने के लिए हाथ में छोटे-छोटे पेढ़े लेंगे.
    • पेडों को गोल-गोल घुमाने के बाद हथेली से थोड़ा दबा दें. आप चाहें तो रोलिंग पिन से गोल गप्पे का कार गोल बना सकते हैं.
    • सभी गोलगप्पों का साइज एक समान रखें.
    • अब इसे तलने के लिए एक कड़ाई में तेल डालें. तेल को तेज आंच पर गर्म करके इसमें गोल गप्पे डालें.
    • आंच अब धीमी करके इसे सुनहरे रंग के होने तक तलें.
    • तलने के बाद इसे बाहर निकालें.
    • लीजिए आपका गोलगप्पा खाने के लिए बिल्कुल तैयार है.
    • जो गोलगप्पे फूले नहीं हों उसे आप पापरी की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं.

    अब पानी के लिए सामग्री- Golgappa Recipe in Hindi

    1 कप हरा धनिया

    1 कप हरा पुदिना

    1 चम्मच भुना जीरा पाउडर

    2-3 हरी मिर्च

    आधा चम्मच हींग

    1 नींबू का रस

    1 बड़ा चम्मच पिसी हुई काली मिर्च

    थोड़ी सी कच्ची इमली

    1 बड़ा चम्मच चाट मसाला

    2-3 बड़ा चम्मच गुड़ पाउडर

    स्वादानुसार सेंधा नमक

    बनाने की विधि-

    1 कप इमली को 1 कप पानी में मिलाकर उसे एक बर्तन में 4-5 घंटे के लिए भिगो कर रख दें.

    इसी बर्तन में इमली का गुदा निचोड़ कर रख लें.

    अब एक छलनी पर रखकर हाथों से दबाकर इमली के जड़ों और गुदों को अलग कर लें.

    इस पानी को एक पैन में छान लें.

    पानी में उपर बताई गई सामग्री को मिले लें और चटपटा पानी तैयार.

    पानी पूरी का आलू मसाला

    सामग्री-

    2 उबले हुए आलू

    बारीक कटा हुआ एक प्याज

    लाल मिर्च पाउडर एक छोटा चम्मच

    थोड़ा सा उबला हुआ काबुली चना

    हरा धनिया एक चम्मच

    2 हरी मिर्च

    छोटा एक चम्मच जीरा पीसा हुआ

    थोड़ा सा गरम मसाला पाउडर

    स्वादानुसार नमक

    विधि-

    एक बर्तन में उबले हुए आलू को मैश करके रख लें.

    इसके बाद सभी सामग्रियों को आलू में डाल कर अच्छे से मिला लें.

    आपका पानी पूरी मसाला तैयार.

    अब आप पूरी को एक तरफ से हल्के हाथों से तोड़ कर उसमें इस आलू मसाले को डालें और फिर उपर से चटपटा पानी डालकर इसका आनंद उठाएं.

    (योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here