Home Health Care बच्चों में बुखार के कारण और घरेलू उपचार – Home Remedies for...

बच्चों में बुखार के कारण और घरेलू उपचार – Home Remedies for Fever in Children

ज्यादा दिनों तक बुखार (Home Remedies For Fever) का रहना घातक भी साबित हो सकता है. क्योंकि यह किसी गंभीर कारण की वजह से हो सकता है.

छोटे बच्चों में हल्की बुखार की समस्या रहना स्वाभाविक है. क्योंकि इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. जिस कारण छोटे बच्चे बड़ी जल्दी संक्रमण की चपेट में आ जाते हैं. लेकिन कई बार यह बुखार माता-पिता के लिए बड़ी चिंता का कारण बन जाता है. हल्का बुखार रहना तो स्वाभाविक है लेकिन ज्यादा दिनों तक बुखार (Home Remedies For Fever) का रहना घातक भी साबित हो सकता है. क्योंकि यह किसी गंभीर कारण की वजह से हो सकता है. यहां बच्चों में बुखार के लक्षण व कुछ घरेलू उपचार बताए जा रहे हैं जिसे फॉलो कर आप इस समस्या से राहत पा सकते हैं.

छोटे बच्चों में बुखार के लक्षण – Home Remedies For Fever

1. शरीर में कंपकपी रहना.

2. चेहरे का लाल होना.

3. दांत कटकटाना.

4. शरीर से लगातार पसीना आना.

5. बच्चे के चेहरे पर थकावट दिखना.

6. सिर का बहुत ज्यादा गर्म रहना.

आसान घरेलू उपचार – Home Remedies For Fever

1. छोटे बच्चों में बुखार की समस्या को तुरंत खत्म करने के लिए यहां बताए जा रहे उपचारों पर अमल करना कारगर साबित होगा. (Bacho ke bukhar ka ilaj)

2. बच्चे में तेज बुखार की शिकायत होने पर आप एक साफ कपड़े को गीला करके उसके सिर पर पट्टी रख सकते हैं. गीली पट्टी बुखार कम करने के उपचारों में से एक है. यह पट्टी बच्चे के शारीरिक तापमान को कम करेंगे.

3. अचानक से तेज बुखार चढ़ने पर गुनगुने पानी से नहलाना फायदेमंद होगा. यानी इससे बुखार कम करने में सहायता मिलेगी. स्पंज को गीला करके भी शरीर को पोछा जा सकता है. इससे बच्चे के शरीर से पानी सूखने के साथ-साथ तापमान भी कम हो जाएगा. ध्यान रहे कि बच्चे को नहलाने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें. ठंडे पानी से नहाने पर उसके शरीर का तापमान और बढ़ सकता है. जिससे परेशानी बढ़ना भी स्वाभाविक है.

4. तेज बुखार में बच्चे को ज्यादा से ज्यादा पानी, दही या फिर जूस दें. इसका सेवन करने से उनका बुखार कम होगा.

5. जब बच्चे को तेज बुखार हो तो उसे हल्के व कॉटन के ही कपड़े पहनाएं. इससे शरीर ऑक्सीजन के संपर्क में रहेगा. जरूरत हो तो पंखे को खुला रखे. किसी कारणवश अगर आप बाहर हैं तो बच्चे को सूर्य की किरणों से बचा कर रखना जरूरी है.

6. डिहाइड्रेशन को कम करने के लिए बच्चे को थोड़ी-थोड़ी देर पर पानी पिलाते रहें.

7. तीन महीने से कम उम्र के बच्चे को तुरंत डॉक्टर के पास लेकर जाएं.

इन्हें भी आजमाएं – Home Remedies For Fever

8. प्याज काटकर बच्चे के पैरों में करीब 2 मिनट तक रगड़ें. ऐसा दिन में दो बार करने से शरीर का तापमान कम होगा और शरीर में होने वाले दर्द में भी राहत मिलेगी.

9. बच्चे को प्याज का रस दिन में 2-3 बार देने से बुखार कम हो जाता है.

10. एक टब पानी में 2 बड़े चम्मच अदरक का पाउडर मिलाकर इस पानी से बच्चे को नहलाएं. इससे बच्चे के शरीर से गंदगी निकलने व पसीना आने में मदद मिलती है. जिससे बुखार कम होता है. (Bacho ke bukhar ka ilaj)

11. दो बड़े चम्मच सरसों का तेल कुछ देर तक गर्म करें. अब इसमें लहसुन का पेस्ट मिलाकर उसे 2 मिनट तक ऐसे ही रखें. इसका तापमान सामान्य होने पर इसे बच्चे के पीठ, गला, हथेली, पैर समेत पूरे शरीर में अच्छी तरह मालिश करें. ऐसा करने से बच्चे को अच्छी नींद आएगी व बुखार भी कम होगा.

12. अंडे के सफेद भाग को निकालकर उसे अच्छी तरह फेंटे. अब इसमें दो छोटे नैपकिन को एक मिनट तक डुबो कर रख दें. इस नैपकिन को बच्चे के पैरों के चारों तरफ लपेट कर एक घंटे के लिए छोड़ दें. इससे बच्चे का बुखार धीरे-धीरे कम होने लगेगा.

13. नींबू के रस में थोड़ा शहद व आधा चम्मच अदरक पाउडर मिलाएं. इसमें से एक चम्मच करके बच्चे को दो बार दें. इससे बच्चे की इम्युनिटी बढ़ती है.

14. पहले किशमिश को पानी में भिगो लें और नरम होने पर उसका पानी निकाल लें. इस रस को बच्चे को पिलाने पर बुखार कम होगा.

बच्चे को डॉक्टर के पास कब ले जाएंHome Remedies For Fever

1. ज्यादा दिनों तक बुखार का रहना.

2. बुखार के बाद भी इसका लक्षण दिखना.

3. बच्चे का 8 घंटे तक पेशाब नहीं करना.

4. रोते वक्त बच्चे की आंखों से आंसू न निकलना.

5. एक हफ्ते तक बुखार का आते-जाते रहना.

6. चलने में परेशानी होना.

7. 2 वर्ष के बच्चे का बुखार लगातार 48 घंटे तक रहना.

8. बच्चे का लगातार रोते रहना.

9. सिर दर्द की शिकायत

10. 3 महीने से 1 वर्ष के बच्चे का तापमान 100.4 डिग्री फारेनहाइट या फिर उससे ज्यादा रहना.

11. 3 महीने से कम उम्र वाले बच्चे का रेक्टल तापमान 100.4 डिग्री फारेनहाइट या फिर इससे ज्यादा रहना.

12. बुखार के साथ-साथ खराश, कान दर्द, उल्टी, दस्त व खांसी का होना.

बुखार में बच्चे को दें संतुलित आहार Home Remedies For Fever

1. बच्चे को पहले तो साधारण भोजन ही दें. लेकिन अगर वह खाने से इंकार करे तो फिर जबरदस्ती मत करें. (Bacho ke bukhar ka ilaj)

2. बच्चे को ना तो ज्यादा फल खिलाएं और ना ही ज्यादा जूस पिलाएं. ऐसा करें आप बच्चे को आधे ग्लास पानी में आधा ग्लास जूस मिलाकर दें.

3. बुखार में बच्चे को अगर उल्टी आती है को उसे जिलेटिन खिला सकते हैं.

4. बच्चे को आटे से बने ब्रेड या पास्ता भी खिलाया जा सकता है. यह बच्चे के लिए अच्छा विकल्प है.

बच्चे को बुखार से ऐसे बचाएंHome Remedies For Fever

1. बच्चे के आसपास का वातावरण साफ व सुरक्षित रखें. बच्चे हर चीज अपनी मुंह में डालते हैं और उन चीजों के माध्यम से बैक्टीरिया उनके शरीर में प्रवेश कर जाता है. बच्चे की देखभाल करने वाले व्यक्ति खुद को भी साफ रखें. किसी तरह के संक्रमण से पीड़ित व्यक्ति के पास बच्चे को ना जाने दें.

2. बच्चे को डिहाइड्रेशन से बचाने के लिए उसे पर्याप्त मात्रा में पानी व जूस देते रहें. ज्यादा पानी वाले फल बच्चे को खाने के लिए दें.

3. बच्चे को बासी खाना बिल्कुल ना खिलाएं. उन्हें हमेशा ताजा खाना ही खाने के दें. खिलाने से पहले बच्चे के साथ-सात अपना भी हाथ धो लें. बच्चे को फिल्टर पानी ही पीने को दें.

4. सबसे जरूरी कि बच्चे को समय-समय पर डॉक्टर के पास टेस्ट के लिए लेकर जाएं.

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here