Home Health Care 62 की उम्र में भी मुकेश अंबानी कैसे रहते हैं इतने एक्टिव!

62 की उम्र में भी मुकेश अंबानी कैसे रहते हैं इतने एक्टिव!

भारत के सबसे बड़े बिजनेसमैन मुकेश अंबानी तो शाकाहारी भोजन करते ही है. साथ ही वे स्ट्रीट फूड व अंडे खाना भी पसंद करते हैं. Mukesh Ambani Fitness Secret

भारत के सबसे बड़े बिजनेसमैन मुकेश अंबानी 62 की उम्र में भी खुद को काफी ऐक्टिव रखते हैं. स्वस्थ शरीर का राज स्वस्थ भोजन होता है और मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Fitness Secret) अपनी सेहत का पूरा ख्याल भी रखते हैं. हालांकि उनकी फूड हैबिट्स भी आम लोगों की तरह ही है. मुकेश अंबानी शाकाहारी भोजन पसंद करते हैं. शाकाहारी भोजन भी उन्हें हमेशा ऐक्टिव बनाए रखता है.

mukesh-ambani-fitness

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Fitness Secret) के पिता धीरूभाई अंबानी दुनिया के सबसे अमीर सख्सियतों में से एक थे. यमन में जन्में मुकेश अंबानी के बिजनेस और उनकी लाइफस्टाइल के बारे में तो पूरी दुनिया जानती है. वे अपने काम को पहली प्राथमिकता देते हैं. लेकिन उनके फूड हैबिट्स के बारे में बहुत कम लोगों को ही जानकारी है.

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Fitness Secret) गुजरात से आते हैं लेकिन उन्हें साउथ इंडियन भोजन ही पसंद है. वे अगर घर से बाहर भी कहीं जाते हैं तो उनकी पहली प्राथमिकता रहती है कि वे इंडियन फूड ही खाएंगे. कहने को तो वे शुद्ध शाकाहारी हैं लेकिन उन्हें अंडे बहुत पसंद है और खाते भी हैं. इतने बड़े बिजनेसमैन स्ट्रीट फूड के भी शौकीन हैं.

घर में हमेशा साधारण भोजन (Mukesh Ambani Fitness Secret)

इनके घर में भोजन हमेशा साधारण ही बनता है. जो कि शुद्ध शाकाहारी होता है. खुद तो इनका परिवार शाकाहारी भोजन करता ही है अगर इनके घर में कोई मेहमान भी आते हैं तो उन्हें भी यही खाना खिलाया जाता है. मेहमान चाहे देश-विदेश कहीं के भी हों उनके लिए भी शाकाहारी भोजन ही बनता है.

मेहमानों के लिए भी शाकाहारी भोजन (Mukesh Ambani Fitness Secret)

इस संबंध में मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Fitness Secret) कहते हैं कि परिवार के हर सदस्य की तरह मेहमानों के लिए भी शाकाहारी भोजन की परंपरा उनके पिताजी के समय से ही चली आ रही है. एक वेबसाइट के अनुसार मुकेश अंबानी के घर में खाना सौराष्ट्र के महाराज और नेपाली लड़कों द्वारा ही बनाया जाता है.

मुकेश अंबानी रोजाना नाश्ते में पपीते का जूस, दोपहर के भोजन में सूप के साथ सलाद, और रात के भोजन में रोटी-दाल और भात-शाक लेना पसंद करते हैं. इन्हें मैसूर कैफे का मटुंगा, ग्वालिका टैंक का डोसा, दिल्ली के चांदनी चौक की चाट बहुत पसंद है.

इसके अलावा उन्हें बड़े रेस्तरां से लेकर स्ट्रीट फूड तक के व्यंजन भी खूब भाते हैं. इसका श्रेय वे अपनी पत्नी नीता अंबानी को देते हैं. मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Fitness Secret) कहते हैं कि नीता अंबानी ने ही उन्हें हर चीज खाना सिखाया है. और नीता हर खाने को महत्व देना सिखाया है.

प्राकृतिक है शाकाहारी भोजन (Mukesh Ambani Fitness Secret)

मांसाहारी लोगों की तरह शाकाहारी होना भी फायदेमंद है. मछली, मांस व अंडे से प्राप्त होने वाले प्रोटीन शाकाहारी लोगों को वनस्पति से भी प्राप्त होता है. मानव शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कोई ऐसा पौष्टिक तत्व नहीं है, जो वनस्पतियों से प्राप्त नहीं किया जा सकता. शाकाहारी भोजन में खनिज पदार्थ, विटामिन, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट समेत कई पोषक तत्व पाए जाते है.

ये तत्व शरीर को स्वस्थ रखने में पूरी मदद करता है. यानी शाकाहारी भोजन भी व्यक्ति के तन-मन को स्वस्थ रखता है. फोलेट के अत्यधिक मात्रा में होने व न्यून मात्रा में सेचुरेटेड वसा, कोलेस्ट्रॉल और एनिमल प्रोटीन मात्रा की वजह से शाकाहारी भोजन व्यक्ति को विभिन्न तरह के रोगों से बचाव करता है.

शाकाहारी भोजन के फायदे (Mukesh Ambani Fitness Secret)

1. शाकाहारियों में हृदय को रक्त भेजने वाली धमनियों से संबंधित बीमारी की संभावनाएं कम रहती है.

2. शाकाहारी भोजन पचने में आसान होता है. जबकि मांसाहारी भोजन को पचने में काफी समय लगता है.

3. सब्जियों में मिलने वाले विटामिन, अमीनो एसिड, एंटीऑक्सीडेंट जैसे तत्व व्यक्ति को कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाती है.

इसे भी पढ़ें: तारक मेहता की बबीता जी खुद को ऐसे रखती हैं फिट!

4. जो लोग शाकाहारी भोजन करते हैं उनमें हृदय को रक्त भेजने वाली धमनियों से संबंधित बीमारी की संभावना कम होती है.

5. शाकाहारी व्यक्ति रेशायुक्त फल और सब्जियों का अधिक सेवन करते हैं. जिसकी वजह से उनमें फेफड़ों और बड़ी आंत के कैंसर की संभावनाएं कम होती है.

6. वनस्पतियों में पाए जाने वाले कुछ प्रोटीन्स व्यक्ति के जीवित रहने की संभावनाएं बढ़ाते हैं. शाकाहारी भोजन गुर्दे से संबंधित रोगों की रोकथाम में सहायक होते हैं.

यह भी…

7. दुनियाभर के आंकड़े दर्शाते हैं कि मांसाहारी भोजन करने वालों की तुलना में वनस्पति आधारित भोजन करने वालों में स्तन कैंसर की संभावना कम होती है.

8. शाकाहारी भोजन करने वालों में हाई ब्लड प्रेशर की संभावना मांसाहारियों की तुलना में कम होती है.

9. शाकाहारी भोजन में हृदय रोग, कैंसर, उच्च रक्तचाप, जोड़ों का दर्द व मधुमेह जैसी बीमारियों से लड़ने की पर्याप्त क्षमता होती है.

10. सब्जियों में एमीनो एसिड के साथ-साथ मैग्नेशियम भी पाया जाता है. इससे हमारे रक्तचाप नियंत्रित रहते हैं. वहीं मांस में पाए जाने वाले प्रोटीन में हाई ब्लड प्रेशर का खतरा रहता है.

ज्यादातर लोग शाकाहार के गुण और प्रभाव से अनभिज्ञ होते हैं. उन्हें शाकाहार का महत्व नहीं पता होता है. लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि शाकाहारी होने के भी बहुत सारे फायदे हैं. और हमने इस आलेख में इसकी विस्तृत जानकारी दी है. #MukeshAmbani

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here