Home Education Teachers Day: शिक्षक दिवस पर अनमोल वचन, दोहे और शायरी

Teachers Day: शिक्षक दिवस पर अनमोल वचन, दोहे और शायरी

शिक्षकों को सम्मान देने व सर्वपल्ली राधाकृष्णन की याद में उनके जन्मदिन के अवसर पर 5 सितंबर को शिक्षक दिवस का पालन किया जाता है. शिक्षक दिवस के अवसर पर कुछ अनमोल वचन, दोहे और शायरी - Teachers Day Quotes in Hindi

किसी भी व्यक्ति के जीवन की सफलता शिक्षा पर ही निर्भर करती है. बगैर शिक्षा कोई व्यक्ति सफल नहीं हो सकता और इस शिक्षा की जिम्मेवारी हमारे शिक्षकों पर होती है. देश समाज गठन कर देश के भविष्य निर्माण में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है. शिक्षक से मिले मार्गदर्शन के आधार पर ही हम सफलता के शिखर तक पहुंच सकते हैं. देश के पूर्व राष्ट्रपति व शिक्षक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान रहा है. इसलिए शिक्षकों को सम्मान देने व सर्वपल्ली राधाकृष्णन की याद में उनके जन्मदिन के अवसर पर 5 सितंबर को शिक्षक दिवस का पालन किया जाता है.

शिक्षक दिवस के अवसर पर कुछ अनमोल वचन, दोहे और शायरी – Teachers Day Quotes in Hindi

गुरु के सम्मान में अनमोल वचन

1. शिक्षक में दो गुण निहित होते हैं – पहला गुण ये कि जो आपको डरा कर नियमों में बांधकर एक सही इंसान बनाते हैं. दूसरा वो जो आपको खुले आसमान में छोड़कर आपका मार्ग प्रशस्त करते हैं.

2. प्रतिस्पर्धा के इस युग में आपका विरोधी ही आपका सबसे अच्छा शिक्षक है.

3. असफल होकर नीचे गिरने वाले ही वास्तव में शिक्षित होते हैं क्यूंकि ऐसे लोग जब वापस नया रास्ता बनाते हैं तो उन्हें आंतरिक भय नहीं सताता.

4. अपने शिष्य को उसके वास्तविक गुणों व अवगुणों से परिचय करवाना ही सच्चे शिक्षक का परिचय है.

5. किसी भी व्यक्ति की सफलता की नींव में एक शिक्षक की भूमिका अवश्य रहती है. क्यिंक बगैर प्रेरणा के किसी ऊंचाई तक पहुंचना असंभव है.

6. हम सभी अपने जीवन के लिए अपने माता-पिता के ऋणि होते हैं जबकि अच्छे व्यक्तित्व के लिए हम एक शिक्षक के ऋणि होते हैं.

7. समय और अनुभव हमारे प्राकृतिक शिक्षक हैं. समय का हर लम्हा हमें शिक्षा देता है.

8. जिसके अंदर सहनशीलता और सकारात्मकता होती है वही एक सफल शिक्षक है.

9. जीवन की सही शिक्षिका माँ होती है. क्यूंकि माँ ही हमें करुण व आदर का भाव देती है. यही वो भाव है जो सीखने की कला को विकसित करते हैं.

10. शिक्षक स्वयं बुलंदियों पर पहुंचें या नहीं लेकिन बुलंदियों पर पहुंचने वालों को शिक्षक ही निर्मित करते हैं.

11. कोई भी देश माता-पिता और शिक्षक से ही महान बनता है.

शिक्षक दिवस पर अर्थ सहित दोहेTeachers Day Quotes in Hindi

1. गुरु गोविंद दोउ खड़े, काके लागूं पांय

बलिहारी गुरु आपने, गोविंद दियो मिलाय.

अर्थ – यह बहुत ही प्रचलित दोहा है जिसमें महाकवि कबीरदास जी कहते हैं कि जब आपके सामने गुरु और भगवान दोनों खड़े हों तो आप पहले किसे प्रणाम करेंगे? गुरु ही आपको गोविंद यानी भगवान तक पहुंचाने का मार्ग प्रशस्त करते हैं इसलिए गुरु महान हैं और आपको पहले गुरु के चरण स्पर्श करने चाहिए.

2. गीली मिट्टी अनगढ़ी, हमको गुरुवर जान

ज्ञान प्रकाशित कीजिए, आप समर्थ बलवान.

अर्थ – इसमें कवि कहते हैं गुरुवर आप हमें कच्ची मिट्टी की भांति जानकर मुझे भविष्य के लिए तैयार कीजिए. आप ही हमारे गुणों-अवगुणों की परिकल्पना कर हममे ज्ञान रूपी दीपक प्रज्वलित कर सकते हैं.

3. गुरु बिन ज्ञान न होत है, गुरु बिन दिशा अजान

गुरु बिन इन्द्रिय न सधें, गुरु बिन बढ़े न शान.

अर्थ – कवि कहते हैं गुरु बिन ज्ञान पाना असंभव है. गुरु के बिना तो शिष्य अपनी दिशा का भी सही ज्ञान प्राप्त नहीं कर सकता. अगर गुरु ना हो तो विद्यार्थी का अपनी इंद्रियों पर नियंत्रण भी बहुत मुश्किल है. जिसके बिना समान में उसका कोई स्थान नहीं है.

4. पिता जन्म देता महज, कच्ची माटी होय

गुरुजनों के शिल्प से, मिट्टी मूरत होय.

अर्थ – इस दोहे में कवि कहते हैं कि पिता बालक को जन्म देकर अस्तित्व में लाता है, तो वह कच्ची मिच्ची के समान होता है. यानी उनमें कोई गुण दोष नहीं होते और वे जीवन पथ से अंजान होता है. जब बच्चा गुरु के संपर्क में आता है तो शिक्षक उसके गुणों को तराश कर उसे एक मूर्ति की तरह तैयार करता है. ताकि बच्चा अपना भविष्य बना सके.

5. शिष्य वही जो सीख ले, गुरु का ज्ञान अगाध

भक्तिभाव मन में रखे, चलता चले अबाध.

अर्थ – शिष्य वही है जो गुरु द्वारा मिले ज्ञान को अपने अंदर अर्जित कर ले. और अपने मन में गुरु के प्रति सम्मान रखते हुए कर्मपथ पर आगे बढ़ता रहे.

शिक्षक दिवस पर शायरीTeachers Day Quotes in Hindi

1. जीवन का मार्ग कठिन हैं

सत्य का विचार कठिन हैं

पर जो हर हाल में सत्य सिखाये

वही एक सफल शिक्षक कहलाये.

2. शिक्षक हैं एक दीपक की छवि

जो जलकर दे दूसरों को रवि

ना रखता वो कोई ख्वाइश बड़ी

बस शिष्य की सफलता ही हैं खुशियों की लड़ी.

3. चंद शब्दों में नहीं होती बयां

ईश्वर के तुल्य हैं जिनकी काया

ऐसे गुरु वर को शत् शत् नमन

उनके चरणों में जीवन अर्पण.

4. कड़ी धूप में जो दे वृक्ष सी छाया

ऐसी हैं इनके ज्ञान की माया

नहीं होता कोई रक्त सम्बन्ध

फिर भी हैं जीवन का अनमोल बंधन.

5. ना तारीफ के शब्दों की हैं उसको चाहत

ना महंगे उपहारों से होती उसकी इबादत

उसे मिलती हैं तब ही आत्मीय शांति

जब फैलती हैं विश्व में शिष्य की कान्ति.

6. सफल जीवन सजता हैं सपनो से

जो मिलता हैं किसी गुरु की दस्तक से

जीवन सूर्य सा प्रकाशित हो उठता हैं

जब साथ एक सच्चे गुरु का मिलता हैं.

7. भीड़ में हैं एक गुरु ही अपना

दिखाये जो जीवन का सपना

पग पग पर देते वो दिशा निर्देश

गुरु से ही सजे जीवन परिवेश.

8. बिन गुरु नहीं होता जीवन साकार

सिर पर होता जब गुरु का हाथ

तभी बनाता जीवन का सही आकार

गुरु ही हैं सफल जीवन का आधार.

9. जीवन जितना सजता हैं माता-पिता के प्यार से

उतना ही महकता हैं गुरु के आशीर्वाद से

समाज कल्याण में जितने माता पिता होते हैं खास

उतने ही गुरु के कारण देश की होती हैं साख.

10. हर काम आसान हो जाता हैं

जब सच्चे शिक्षक का सानिध्य मिलता हैं

फिर कितने ही आये जीवन में उतार चढ़ाव

शिक्षक के चरणों में ही मिलता हैं ठहराव.

11. गुरूर ब्रह्मा गुरूर विष्णु,

गुरु देवो महेश्वरा,

गुरु साक्षात परब्रह्म,

तस्मै श्री गुरुवे नमः

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here