Home Experts Advice ठंड के मौसम में अस्थमा से बचाव के लिए इन उपायों को...

ठंड के मौसम में अस्थमा से बचाव के लिए इन उपायों को आजमाएं!

अस्थमा की बीमारी बूढ़े से लेकर बच्चे तक को अपना शिकार बना रही है. कुछ घरेलू उपचार अपनाकर इससे राहत पाया जा सकता है. Home remedies for Asthma

अस्थमा की बीमारी एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है. इसकी वजह से इंसान की जान भी जा सकती है. अस्थमा (Home remedies for Asthma) को पूरी तरह से तो ठीक नहीं किया जा सकता लेकिन इस पर नियंत्रण पाया जा सकता है. इसके मरीजों के लिए बदलता मौसम बहुत खतरनाक साबित होता है. यह बीमारी बच्चे-बूढ़े किसी भी उम्र के लोगों को अपना शिकार बना सकती है. खासकर ठंड के मौसम में यह समस्या ज्यादा देखने को मिलती है.

Asthma Inhalar

अस्थमा के कई कारण हो सकते हैं. जैसे मौसम में आए बदलाव, धूल और परागकण की एलर्जी, दवाएं, इत्र, परफ्यूम व कुछ खाद्य पदार्थ आदि से भी यह बीमारी हो सकती है. वातावरणीय कारकों की वजह से तो फैल रही एलर्जी के कारण अस्थमा के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ ही रही है. साथ ही लोगों की बदलती जीवनशैली भी अस्थमा के मरीजों की बढ़ती संख्या की मुख्य वजह है.

इसका इलाज मुख्य रूप से श्वांस नलिका की सूजन की रोकथाम व मांसपेशियों को आराम देने पर ध्यान देते हुए किया जाता है. पिछले कुछ वर्षों में यह बीमारी बहुत तेजी से फैल रही है. जिनके शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है वही लोग बहुत जल्द इस बीमारी के शिकार होते हैं.

अस्थमा से बचने के घरेलू उपाय -Home remedies for Asthma) :

लहसून के फायदे –

लहसून को औषधीय गुणों का खजाना (Home remedies for Asthma) माना जाता है. लहसून सिर्फ एक मसाला नहीं बल्कि कई रोगों की दवा है. बैक्टिरिया जनित रोगों, दस्त, घावों, सर्दी-खांसी और बुखार आदि में लहसून का सेवन बहुत ही लाभदायक होता है. दो महीने तक लगातार रोजाना सुबह खाली पेट लहसून की 2 कच्ची कलियां चबाएं, उसके आधे घंटे बाद आधा चम्मच मुलेठी जड़ी-बूटी का सेवन करें. इसका रिजल्ट होगा कि ठंड के दिनों में खतरनाक रूप धारण करने वाली इस बीमारी से हमेशा के लिए छुट्टी मिल जाती है.

1. तुलसी दूर करें अस्थमा –Home remedies for Asthma

तुलसी के रस, अदरक का रस और शहद का समान मिश्रण अगर रोजाना एक चम्मच लिया जाए (Home remedies for Asthma) तो अस्थमा के मरीज को इससे काफी राहत मिलती है. अगर आप गर्म पानी में तुलसी के 5-10 पत्ते मिलाएं और उसका सेवन करें तो इससे भी काफी राहत मिलती है.

2. फायदेमंद है अजवायन व लौंग –

अजवायन के बीजों को भूनकर और उसे एक सूती कपड़े में लपेट कर रखें. फिर रात को सोने के दौरान उसे तकिया के पास रखें. ऐसा करने पर सर्दी खांसी व दमा वाले रोगियों को सांस लेने में दिक्कत नहीं होती है. दमा का मरीज ठंड के दिनों में अगर अजवायन के बीज व लौंग की समान मात्रा में 5 ग्राम चूर्ण सेवन करे तो राहत मिलती है.

3. बड़ी इलायची – Home remedies for Asthma

बड़ी इलायची, खजूर, व अंगूर की समान मात्रा में लेकर उसे पीस लें. फिर उसे शहद के साथ मिला कर चाटने से दमा व खांसी में राहत मिलती है. अगर आप सिर्फ बड़ी इलायची खाते हैं तो हिचकी, खांसी व दमा से छुटकारा मिलता है.

4. पान व पालक का जूस –

एक ग्लास पालक के जूस में थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर सेवन करने (Home remedies for Asthma) से दमा रोग में राहत मिलती है. पान के पत्तों के साथ अशोक के बीजों का चुर्ण मिलाकर और एक चम्मच करके चबाया जाए तो दमा में आराम मिलती है.

5. भिंडी के बीज से लाभ –

भिंडी के बीजों से होने वाले लाभ की जानकारी बहुत कम लोगों को है. इसके बीज बच्चों के लिए बहुत लाभदायक होता है. ठंड में प्रोटीनयुक्त भिंडी के बीजों को सुखाकर, उसका चूर्ण बनाकर बच्चों को खिलाने पर स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है.

इसे भी पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा ने इंस्टाग्राम पर मास्क लगाकर शेयर किया फोटो, जानिए क्या है वजह?

6. गुणकारी है अंगूर का रस –

दमा के मरीज को अगर रोजाना 50 ग्राम अंगूर का रस गर्म करके पिलाया जाए तो उससे सांस लेने की गति सामान्य रहती है.

7. गेंदा का फूल व उसके बीज के फायदे –

दमा के मरीज के लिए गेंदा का फूल लाभदायक है. इसे सूखाकर फिर इसके बीजों को एकत्रित कर लिया जाए और उसे मिश्री के दानों के साथ समान मात्रा में तीन से चार दिनों तक सेवन किया जाए तो काफी फायदा होगा.

Asthma Inhalar

8. कफ को दूर करे अडूसा की पत्तियां –

अस्थमा में अडूसा की पत्तियों का रस शहद में मिलाकर देने पर मरीज को राहत मिलती है. अडूसा शरीर में प्रवेश कर फेफड़ों में जमी कफ और गंदगी को बाहर निकालता है.

9. अनंतमूल की जड़ें –

अडूसा की पत्तियों व अनंतमूल की जड़ों की समान मात्रा को पहले दूध में उबाल लें. फिर उसका सेवन करें को दमा में काफी फायदा मिलता है.

10. समस्या की जानकारी रखना जरूरी –

अस्थमा से बचाव के लिए यह जानना जरूरी है कि आपको किस वजह से अस्थमा का अटैक आता है. आग के पास बैठने व घूम्रपान से भी इसकी परेशानी होती है. कभी-कभी आहार में शामिल किसी चीज से भी अस्थमा बढ़ने की आशंका रहती है. बीमारी के कारण की जानकारी रखने पर इससे बचने में आसानी होगी.

अस्थमा की बीमारी बूढ़े से लेकर बच्चे तक को अपना शिकार बना रही है. कुछ घरेलू उपचार
(Home remedies for Asthma) अपनाकर इससे राहत पाया जा सकता है. अगर आप भी इस बीमारी से परेशान हैं तो हमारा यह आलेख आपके लिए जरूर फायदेमंद साबित होगा. ‘योदादी’ के साथ अपने अनुभव को कमेंट कर जरूर शेयर करें. #Asthma

(योदादी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here